हिमाचल विश्वविद्यालय, लोकसेवा और चयन आयोग की परीक्षाएं हो रद्द : एनएसयूआई
हिमाचल विश्वविद्यालय, लोकसेवा और चयन आयोग की परीक्षाएं हो रद्द : एनएसयूआई
हिमाचल-प्रदेश

हिमाचल विश्वविद्यालय, लोकसेवा और चयन आयोग की परीक्षाएं हो रद्द : एनएसयूआई

news

शिमला, 27 जुलाई (हि.स.)। छात्र संगठन एनएसयूआई ने प्रदेश में कोरोना के बढ़ रहे प्रकोप के मददेनजर हिमाचल विश्वविद्यालय, लोकसेवा व चयन आयोग की परीक्षाएं रद्द करने की राज्य सरकार से मांग की है। एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष छतर सिंह ठाकुर ने सोमवार को कहा कि प्रदेश में पिछले कुछ दिनों से रोजाना सौ से भी अधिक संक्रमण के केस सामने आ रहे है जिससे लोगों में खौफ का माहौल बना हुआ है। लोग अपने घरों से बाहर निकलने में भी कतरा रहे हैं, ऐसे समय पर परीक्षाओं के आयोजन पर सवाल उठना लाजमी है। उन्होंने कहा कि एनएसयूआई कमीशन के अभियार्थी द्वारा इस महामारी के समय जान जोखिम में डालने के बजाए स्थिति सामान्य होने तक परीक्षाएं रद्द करने की मांग का समर्थन करते हुए सरकार से उनके पक्ष में निर्णय लेने का आग्रह करती है। एनएसयूआई के प्रदेश संगठन महासचिव मनोज चैहान ने छात्रों को बिना परीक्षा दिए प्रमोट करने की मांग दोहराई। कहा कि एनएसयूआई कॉलेज छात्रों को बिना परीक्षा पिछले परफॉर्मेंस के आधार पर प्रमोट करने की मांग को लेकर पहले से ही आंदोलनरत है। ऐसे समय में परीक्षा करवाना न केवल छात्रों बल्कि उनके परिवारों सहित परीक्षा केंद्र में सेवारत स्टाफ सहित अन्य कई लोगों की जान को जोखिम में डालना है। कोरोना की वजह से प्रदेश सरकार ने प्रदेश सचिवालय, सीएम आफिस, हाई कोर्ट व यूनिवर्सिटी कैंपस जैसे सुरक्षित स्थानों पर कुछ कोरोना पॉजिटिव कर्मचारियों के पाए जाने के बाद इन सभी स्थानों को सील कर दिया है। मनोज चैहान ने कहा कि सरकार ने जैसे विश्वविद्यालय को सील करने के आदेश दिए हैं, वैसे ही यूजी छटे सेमेस्टर की परीक्षा करवाने के निर्णय को रद्द कर छात्रों को पिछले परफॉरमेंस में अतिरिक्त दस प्रतिशत अंकों के साथ प्रमोट करने के आदेश भी जारी करें। हिन्दुस्थान समाचार/उज्जवल/सुनील-hindusthansamachar.in