कोरोना कफ्र्यू में फंसे किसानों को एचआरटीसी बस से भेजा भरमौर

कोरोना कफ्र्यू में फंसे किसानों को एचआरटीसी बस से भेजा भरमौर
farmers-trapped-in-corona-curfew-were-sent-by-hrtc-bus-to-bharmour

धर्मशाला, 09 जून (हि.स.)। कोरोना कफ्र्यू के कारण धर्मशाला के विभिन्न क्षेत्रों में फंसे चंबा जिला के भरमौर उपमंडल के किसानों को बुधवार को एचआरटीसी की बस से भरमौर भेजा गया। किसानों की परेशानी को समझते हुए स्थानीय विधायक विशाल नैहरिया ने यह सारी व्यवस्था करवाई। धर्मशाला विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न स्थानों पर रह रहे भरमौर के यह किसान कोरोना कफ्र्यू में यहीं फंसकर रह गए थे। परिवहन सेवा उपलब्ध न होने के चलते इन किसानों को घर जाने में दिक्कतें पेश आ रही थी। जिस पर किसानों ने विधायक सेवा दल के समक्ष उन्हें घर भेजने का मसला रखा था। जिस पर विधायक विशाल नैहरिया ने भरमौर के इन किसानों को घर भेजने का इंतजाम किया और बुधवार को एचआरटीसी बस में इन किसानों को भरमौर के लिए रवाना किया गया। किसानों के कोरोना कफ्र्यू के चलते भरमौर न जा पाने के कारण भरमौर में उनकी खेती खराब हो रही थी। साथ ही नई फसल की बिजाई करने से भी वंचित रहने वाले थे। भरमौर में स्थाई रूप से रहने वाले यह किसान खेती-बाड़ी करने के बाद रोजगार के लिए धर्मशाला आते हैं। कोरोना कफ्र्यू में धर्मशाला के विधायक विशाल नैहरिया द्वारा गठित धर्मशाला विधायक सेवा दल को इन किसानों ने अपनी समस्या बताई। किसान अतुल कुमार ने धर्मशाला विधायक सेवा दल को बताया कि साधन संपन्न किसान एवं बागवान टैक्सी के माध्यम से भरमौर अपनी खेती-बाड़ी का काम करने चले गए हैं, जबकि आर्थिक रूप से कमजोर किसान एवं बागवान कोरोना कफ्र्यू के कारण यहां फंस गए हैं। किसानों की मांग पर विधायक विशाल नैहरिया ने जिला प्रशासन के सहयोग से बुधवार को एचआरटीसी की बस से इन सभी को भरमौर भेजा। धर्मशाला से भरमौर गए 25 किसानों ने विधायक का धन्यवाद किया है। इससे पूर्व भी पिछले साल भरमौर, पांगी और जम्मू कश्मीर सहित अन्य राज्यों से किसान एवं बागवान सहित विद्यार्थी यहां फंसे थे, उनके घर जाने की व्यवस्था भी विधायक विशाल नैहरिया ने करवाई थी। हिन्दुस्थान समाचार/सतेंद्र/सुनील