demand-for-opening-cghs-center-in-dharamshala-once-again-gets-thrust
demand-for-opening-cghs-center-in-dharamshala-once-again-gets-thrust
हिमाचल-प्रदेश

सीजीएचएस केन्द्र धर्मशाला में खोलने की मांग ने एक बार फिर जोर पकड़ा

news

धर्मशाला, 26 फरवरी (हि.स.)। केन्द्र सरकार के सेवारत एवं सेवानिवृत्त कर्मचारियों एवं उनके परिवारों की चिकित्सा सुविधा के लिए सेन्ट्रल गवर्नमेंट हेल्थ स्कीम (सीजीएचएस) का केन्द्र धर्मशाला में खोलने की मांग ने एक बार फिर जोर पकड़ा है। कांगड़ा जिला के सेवानिवृत्त कर्मचारी एसोसिएशन की एक बैठक 25 फरवरी को धर्मशाला में अध्यक्ष सेवानिवृत्त डीआईजी (सीआईएसएफ) विनोद थापा की अध्यक्षता में आयोजित की गई, जिसमें केन्द्र को धर्मशाला में शीघ्र खुलवाने की मांग को और गति देने पर विचार-विमर्श किया गया। बैठक में सदस्यों ने रोष व्यक्त किया कि वर्ष 2012 से केन्द्र को स्वास्थ्य केंद्र को धर्मशाला में खोलने हेतू विभिन्न स्तरों पर प्रयास किया गया परन्तु कोई प्रगति नहीं हुई। पिछले वर्ष एसोसिएशन का एक प्रतिनिधि मण्डल केंद्रीय स्वास्थ्य मन्त्री हर्षवर्धन से भी मिला जिन्होंने इस सम्बन्ध में उचित कार्यवाही करने का आश्वासन दिया था। बैठक में निर्णय लिया गया कि संगठन को अब प्रभावशाली तरीके से रणनीति बनाकर उचित स्तर पर कदम उठाने की आवश्यकता है। बैठक में निर्णय लिया गया कि एसोसिएशन का एक प्रतिनिध मण्डल सांसद कांगड़ा किशन कपूर के सहयोग से इस विषय को केन्द्रीय स्वास्थ्य मन्त्री हषवर्धन के समक्ष उठाया जाये ताकि कोई ठोस निर्णय लिया जा सके। इस सम्बन्ध में एसोसिएशन का एक प्रतिनिधि मण्डल सांसद किशन कपूर से मिला। सांसद कपूर ने प्रतिनिधि मण्डल को आश्वासन दिया कि अगले माह संसद के सत्र के दौरान इस सम्बन्ध में उचित कार्यवाही करेंगे। गौर हो कि कांगड़ा जिले में केन्द्र के सेवारत, सेवानिवृत्त एवं उनके परिवारों की संख्या देश में सबसे अधिक है जिन्हें वर्तमान में सीजीएचएस के अंतर्गत अपना इलाज करवाने शिमला, चण्डीगढ़ या दिल्ली जाना पड़ता है। हिन्दुस्थान समाचार/सतेंद्र/सुनील