अस्पतालों में घटिया सामान की आपूर्ति पर बिफरी कांग्रेस, जांच की उठाई मांग

अस्पतालों में घटिया सामान की आपूर्ति पर बिफरी कांग्रेस, जांच की उठाई मांग
congress-angry-over-the-supply-of-inferior-goods-in-hospitals-demand-for-investigation-raised

शिमला, 22 मई (हि.स.)। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने प्रदेश के अस्पतालों के सामान की घटिया आपूर्ति के खुलासे के बाद स्वास्थ्य सेवाओं की अव्यवस्था पर गम्भीर चिंता प्रकट करते हुए कहा है कि भाजपा सरकार ने भ्रष्टाचार की सभी सीमाएं लांग दी है। उन्होंने आरोप लगाया है कि यह सब सरकार के सरंक्षण में हो रहा है। राठौर ने ठियोग कुमारसैन के अस्पतालों में घटिया और पहले से प्रयोग किये गये ग्लब्स व अन्य सामान की आपूर्ति के खुलासे के बाद स्वास्थ्य विभाग में चल रहे व्यापक भ्रष्टाचार पर चिंता व्यक्त करते हुए प्रदेश सरकार पर आरोप लगाया है कि वह जानबूझकर कर लोगों के स्वास्थ्य सुरक्षा से एक बड़ा खिलवाड़ कर रही है। राठौर ने शनिवार को एक बयान में कहा है कि उन्हें जानकारी मिली है कि प्रदेश के दूरदराज के पीएचसी व डिस्पेंसरियों में स्वास्थ्य विभाग की ओर से घटिया व आधी अधूरी सब स्टेंडर्ड की दवाइयां व आवश्यक सामग्री की आपूर्ति की जा रही है। उन्होंने कहा है कि स्वास्थ्य विभाग में व्याप्त भ्रष्टाचार के चलते सरकार के सरंक्षण में कोरोना की इस आपदा में भी सरकार के करीबी इस अवसर का पूरा लाभ लेने में जुटे है। उन्होंने इसकी कड़ी आलोचना करते हुए कहा है कि सरकार भ्रष्टाचार की जांच के किसी भी मामलें में पूरी तरह खामोश है। राठौर ने सरकार की कार्य क्षमता पर सवाल उठाते हुए कहा है कि एक तरफ कोरोना महामारी से लोगों में भय फैला हुआ है तो दूसरी ओर इनके करीबी इस अबसर का पूरा लाभ लेते हुए अपनी जेबे भरने में लगें है। राठौर ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से कोरोना काल के दौरान स्वास्थ्य विभाग द्वारा खरीदे गए उपकरणो, दवाओं व अन्य वस्तुओं पर किये गए व्यय की पूरी जानकारी देने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि सरकार से ठियोग कुमारसैन व ननखड़ी स्वास्थ्य केंद्रों में भेजी गये घटिया और पहले से प्रयोग की गई सामग्री की पूरी जांच करने व दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करने की मांग की है। राठौर ने यहां ओक्सीजन न मिलने के कारण दो लोगों की मृत्यों पर भी दुखः प्रकट करते हुए इसकी जॉच की मांग भी सरकार से की है। हिन्दुस्थान समाचार/उज्ज्वल/सुनील