bjp-should-inform-the-people-of-the-state-about-the-expenses-incurred-in-the-churning-camp-congress
bjp-should-inform-the-people-of-the-state-about-the-expenses-incurred-in-the-churning-camp-congress
हिमाचल-प्रदेश

मंथन शिविर में हुए खर्च की जानकारी प्रदेश की जनता को दे भाजपा : कांग्रेस

news

शिमला, 20 फरवरी (हि.स.)। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने भाजपा की धर्मशाला में आयोजित प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में हुए खर्चे पर सवाल उठाते हुए कहा है कि आज प्रदेश कर्ज के बोझ तले दबता जा रहा है। भाजपा के मंथन शिविर में खर्च कहां से किया गया प्रदेश को इसकी जानकारी उन्हें देनी चाहिए। शनिवार को शिमला में पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि उन्हें उम्मीद थी कि भाजपा कार्यसमिति की बैठक में प्रदेश से जुड़े मसलों पर कोई सार्थक चर्चा होती। बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी और प्रदेश की बिगड़ती अर्थव्यवस्था से उभरने के उपायों पर कोई चर्चा होती,जनहित के मुद्दों पर चर्चा होती पर ऐसा कुछ नही हुआ। राठौर ने कार्यसमिति की बैठक में पारित प्रस्ताव को पूरी तरह खारिज करते हुए कहा है कि नए कृषि कानून किसान विरोधी है और कांग्रेस इस प्रस्ताव का पुरजोर विरोध करती है। उन्होंने कहा कि भाजपा का यह कहना कि यह आंदोलन मुट्ठी भर किसानों का है, यह पूरी तरह देश के किसानों का अपमान है। उन्होंने आगे कहा कि आज लाखों किसान इन कानूनों के विरोध में सड़कों पर बैठे हैं। जगह-जगह इसके विरोध में महापंचायतें हो रही है जिसमें लाखो लोग शामिल हो रहें है। हिमाचल में भी चारों ससंदीय क्षेत्रों में कांग्रेस ने किसानों के समर्थन में ट्रैक्टर रैलियों को निकाला। मंडी में राज्यस्तरीय किसान सम्मेलन आयोजित किया गया। उन्होंने कहा कि आज भी जिला स्तर पर कांग्रेस ने अपनी पदयात्रा निकाली है। शिमला जिला की पदयात्रा 23 फरवरी को गुम्मा से छैला तक आयोजित होगी जिसमें वह खुद और शिमला जिला के विधायक,पूर्व विधायक, जिला अध्यक्ष, ब्लॉक अध्यक्ष व अन्य पदाधिकारी भाग लेंगे। मुख्यमंत्री के उस बयान पर जिसमें उन्होंने प्रदेश में किसी भी भाजपा सरकार शांता कुमार व प्रेम कुमार धूमल सरकारों के दुबारा रिपीट न होने की टीस व्यक्त की है पर राठौर ने कहा कि जयराम ठाकुर भी भाजपा सरकार रिपीट होने के सपने छोड़ दे। उन्होंने मुख्यमंत्री के उस बयान पर भी जिसमें उन्होंने कहा कि चुनाव विकास पर नही संगठन पर जीते जाते है को राजनीति की नई फिलॉसपी बताते हुए कहा कि फिर तो किसी भी सरकार को विकास के कार्य छोड़ संगठन को ही मजबूत करना चाहिए। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा ने अब तक जो भी चुनाव जीते है वह छदम राष्ट्रवाद क्षेत्रवाद, सम्प्रदाय के नाम पर एक दूसरे को लड़कर ही जीते है। राठौर ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा पर तंज कसते हुए कहा कि क्या उन्होंने कोरोना के इस काल मे प्रदेश भाजपा सरकार में हुए भ्रष्टाचार बारे कोई चर्चा की,जिसके चलते प्रदेश भाजपा अध्यक्ष को अपने पद से हाथ धोना पड़ा था,निदेशक स्वास्थ्य विभाग की गिरफ्तारी हुई,सचिवालय में सेनेटाइजर घोटाला, पीपीई घोटाला, निजी विश्वविद्यालय में फेंक डिग्री मामलों की कोई जानकारी हासिल की। राठौर ने आगे कहा कि कोरोना काल में प्रदेश में भाजपा ने लोगों की कोई भी सहायता नही की। कांग्रेस ने शिमला के आईजीएमसी, टांडा और नेरचौक मेडिकल कॉलेजों में खुद जाकर स्वाथ्य उपकरण भेंट किये साथ मे लोगों की हरसंभव मदद भी की। राठौर ने केंद्रीय राज्य वित्त मंत्री अनुराग ठाकुर के अर्थशास्त्र का ज्ञान देने पर उनसे पूछा कि वह बताए कि आज देश की जीडीपी -- 24 तक नीचे कैसे पहुंच गई है। देश मे 2025 तक पांच ट्रिलियन का राजकोष होने का दावा वह किस आधार पर कर रहें है जबकि आज देश की परिसम्पत्तियों को चरणबद्ध ढंग से बेचा जा रहा है। हिन्दुस्थान समाचार/उज्जवल/सुनील

AD
AD