196-crore-electricity-bill-pending-for-180-hotels-in-himachal
196-crore-electricity-bill-pending-for-180-hotels-in-himachal
हिमाचल-प्रदेश

हिमाचल में 180 होटलों का 1.96 करोड़ का बिजली बिल लंबित

news

शिमला, 02 मार्च (हि.स.)। प्रदेश में 180 होटल कारोबारी बिजली बोर्ड के डिफाल्टर है जो बिजली के बिल का भूगतान न करके बोर्ड को करोडो रूपए का चुना लगा रहे है। होटल कारोबारियों पर 31 जनवरी 2021 तक एक करोड 96 लाख रूपए के बिल की देनदारियां लंबित हैं। प्रदेश के सभी जिलों में होटल कारोबारी बिजली बोर्ड के डिफाल्टर हैं। इसमें सबसे ज्यादा शिमला जिला में होटल कारोबारियों ने बिजली का बिल चुकता नहीं किया है। विधानसभा में मंगलवार को प्रश्नकाल के दौरान विधायक आशा कुमारी द्वारा पूछे गए सवाल का लिखित जवाब देते हुए उर्जा मत्री सुखराम चौधरी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि पूरे प्रदेश में 424.34 करोड रूपए के बिल की देनदारी लंबित है जिसे चुकता नहीं किया है। इससे बोर्ड को करोड़ों रूपए का नुकसान उठाना पड रहा है। उन्होंने बताया कि 365 करोड रूपए से अधिक की देनदारी मौजूदा उपभोक्ताओं की है जबकि 58 करोड रूपए से अधिक की देनदारी उन उपभोक्ताओं की है जिनके बिजली के काॅनेक्शन काट दिए गए है। 69 करोड रूपए के बिजली के बिल की देनदारी घरेलू उपभोक्ताओ की भी लंबित है। इसी तरह 175 करोड रूपए से अधिक की देनदारिया औद्योगिक इकाईयों की लंबित है। इसमें बिलासपुर में 21.57, चंबा में 12.33, हमीरपुर में 6.74, कांगडा में 50.18, किन्नौर में 5.84, कुल्लू में 13.29, मंडी में 29.11, सिरमौर में 55.75, सोलन में 102.48 और उना में 18.19 करोड रूपए के बिल चुकता नहीं किए है। हिन्दुस्थान समाचार/उज्ज्वल/सुनील