शिमला : बिजली, पानी औऱ प्रॉपर्टी टैक्स माफ करने की मांग को लेकर नागरिक सभा का प्रदर्शन
शिमला : बिजली, पानी औऱ प्रॉपर्टी टैक्स माफ करने की मांग को लेकर नागरिक सभा का प्रदर्शन
हिमाचल-प्रदेश

शिमला : बिजली, पानी औऱ प्रॉपर्टी टैक्स माफ करने की मांग को लेकर नागरिक सभा का प्रदर्शन

news

शिमला, 22 सितम्बर (हि.स.)। शिमला नागरिक सभा ने कोरोना काल में कूड़ा, पानी व प्रॉपर्टी टैक्स को माफ करने, पार्किंग शुल्क घटाने और दुकानदारों से प्रॉपर्टी टैक्स वसूली के विरोध में नगर निगम के बाहर तीन घंटे तक प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के बाद नागरिक सभा के प्रतिनिधिमण्डल ने नगर निगम के आयुक्त को तेरह सूत्री ज्ञापन सौंपा। आयुक्त ने प्रतिनिधिमंडल को उनकी समस्याओं का समाधान करने का आश्वासन दिया है। इस अवसर पर नागरिक सभा के अध्यक्ष विजेंद्र मेहरा ने कहा कि कोरोना संकट के दौर में मार्च से सितम्बर के छह महीनों में शहर के सत्तर प्रतिशत लोगों का रोज़गार पूर्णतः अथवा आंशिक रूप से चला गया है। हिमाचल प्रदेश सरकार व नगर निगम ने कोरोना काल में प्रभावित जनता को कोई भी आर्थिक सहायता नहीं दी है। उन्होंने कहा कि शहर में होटल व रेस्तरां उद्योग पूरी तरह ठप हो गया है। पर्यटकों ने न आने से हज़ारों टैक्सी चालकों, कुलियों, गाइडों, टूर एंड ट्रैवल संचालकों आदि का रोज़गार लगभग खत्म सा हो गया है। शिमला का लगभग चालीस प्रतिशत व्यापार पर्यटन से जुड़ा हुआ है। हज़ारों रेहड़ी, फड़ तहबाजारी व छोटे कारोबारी तबाह हो गए हैं। उन्होंने सरकार से मांग की कि कोरोना काल का कूड़ा, पानी व प्रॉपर्टी टैक्स को माफ करने, पार्किंग शुल्क घटाने और दुकानदारों से प्रॉपर्टी टैक्स वसूली बंद करने की मांग की है। हिन्दुस्थान समाचार/उज्ज्वल-hindusthansamachar.in