मुख्यमंत्री ने घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र में 190 करोड़ रुपये की दी सौगात
मुख्यमंत्री ने घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र में 190 करोड़ रुपये की दी सौगात
हिमाचल-प्रदेश

मुख्यमंत्री ने घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र में 190 करोड़ रुपये की दी सौगात

news

बिलासपुर, 05 नवम्बर (हि. स.)। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने गुरुवार को जिला बिलासपुर की घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र के भराड़ी में लगभग 190 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का लोकार्पण किया या आधारशिला रखी। मुख्यमंत्री ठाकुर ने यहां 72 लाख रुपये की लागत से निर्मित घुमारवी स्थित लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह के अतिरिक्त भवन का उद्घाटन किया। उन्होंने जल जीवन मिशन के अंतर्गत इस निर्वाचन क्षेत्र के लिए 53.32 करोड़ रुपये की लागत की विभिन्न उठाऊ जल आपूर्ति योजनाओं, घुमारवीं में 21.17 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले मिनी सचिवालय भवन, राजकीय महाविद्यालय घुमारवीं में 6.50 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले विज्ञान भवन, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला (छात्र) घुमारवीं में 4.35 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले बहुद्देश्यीय हाॅल, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला भराड़ी के लिए 2.51 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले विद्यालय भवन, हिमाचल प्रदेश राज्य विद्युत आपूर्ति लिमिटेड मंडल घुमारवीं के अंतर्गत 33/11 केवी उप केन्द्र नसवाल के आवर्धन कार्य के लिए 2.39 करोड़ रुपये और स्वामी विवेकानन्द राजकीय महाविद्यालय घुमारवीं में 1.33 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले ई-लाइब्रेरी हाॅल की आधारशिला भी रखी। उन्होंने 4.46 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली नगरपरिषद पार्किंग की भी आधारशिला रखी। साथ ही मुख्यमंत्री ठाकुर ने 82 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित दधोल लदरौर सड़क वाया भराड़ी मध्यवर्ती मानक में स्तरोन्नयन के लिए भूमि पूजन किया। उन्होंने 5.50 करोड़ रुपये की लागत से स्तरोन्नत होने वाली रोहाल खड्ड से घंडालवीं सड़क वाया लेहड़ी सरैल और 2.52 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली मेहरा नैन जलौन पंगवाड़ा तलाई तकरेहरा सड़क का भूमि पूजन भी किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ठाकुर ने कहा कि घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र को राज्य मंत्रिमंडल में पहली बार प्रतिनिधित्व मिला है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेताओं ने अपने आलाकमान के समक्ष 12 करोड़ रुपये का बिल प्रस्तुत किया था, जबकि सरकार ने लोगों को मास्क, सेनेटाइजर, खाद्य सामग्री उपलब्ध करवाने और फंसे हुए लोगों की प्रदेश वापसी में 13 करोड़ रुपये व्यय किए। इससे सिद्ध होता है कि कांग्रेस पार्टी अपनी ही पार्टी की छवि को मलिन करने में भी नहीं हिचकिचाती। उन्होंने कहा कि प्रदेश, विशेषकर बिलासपुर के लोग भाग्यशाली हैं कि प्रदेश के धरती पुत्र जेपी नड्डा आज विश्व की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी भाजपा का नेतृत्व कर रहे हैं। इस मौके पर खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री राजिन्द्र गर्ग ने उनके गृह क्षेत्र में मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए विधानसभा क्षेत्र के लिए190 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं को समर्पित करने के लिए उनका आभार व्यक्त किया। हिन्दुस्थान समाचार/सुनील-hindusthansamachar.in