प्रतिनियुक्ति के दौरान बिजली बोर्ड पर नहीं पड़ता कर्मचारियों का अतिरिक्त बोझ : ऊर्जा मंत्री
प्रतिनियुक्ति के दौरान बिजली बोर्ड पर नहीं पड़ता कर्मचारियों का अतिरिक्त बोझ : ऊर्जा मंत्री
हिमाचल-प्रदेश

प्रतिनियुक्ति के दौरान बिजली बोर्ड पर नहीं पड़ता कर्मचारियों का अतिरिक्त बोझ : ऊर्जा मंत्री

news

शिमला,16 सितम्बर (हि.स.)। बहुउद्देशीय परियोजनाएं एवं ऊर्जा मंत्री सुखराम ने कहा है कि हिमाचल प्रदेश राज्य विद्युत बोर्ड लिमिटेड से दूसरे विभागों में प्रतिनियुक्ति के समय में तैनात अधिकारियों व कर्मचारियों पर व्यय संबन्धित विभाग द्वारा ही वहन किया जाता है। अत: प्रतिनियुक्ति के दौरान बोर्ड पर इसका कोई भी अतिरिक्त बोझ नहीं पड़ता। उन्होंने बताया कि प्रतिनियुक्ति अवधि की पेंशन भी संबंधित विभाग ही कर्मचारियों को देता है। यह बात उन्होंने बुधवार को विधानसभा में प्रश्रकाल के दौरान विधायक आशीष बुटेल व रमेश चंद ध्वाला के सवाल के जवाब में कही। उन्होंने बताया कि गत तीन वर्षों में 31 जुलाई, 2020 तक हिमाचल प्रदेश राज्य विद्युत बोर्ड लिमिटेड में विभिन्न श्रेणियों के 239 अधिकारी व कर्मचारी दूसरे विभागों में प्रतिनियुक्ति पर तैनात हैं। उन्होंने बताया कि वर्तमान में प्रति यूनिट बिजली की दरों के निर्धारण में प्रति यूनिट कर्मचारी दर 2.09 रुपये है। जिसमें पेंशन का हिस्सा 0.96 रुपये तथा वेतन का हिस्सा 1.13 रुपये प्रति यूनिट है। उन्होंने कहा कि गत तीन वर्षों में 31 जुलाई, 2020 तक हिमाचल प्रदेश राज्य विद्युत बोर्ड लिमिटेड द्वारा स्वीकृत संख्या से अधिक 230 अधिकारियों व कर्मचारियों की पदोन्नति की गई। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों को परफार्मा पदोन्नति का लाभ बोर्ड कर्मचारियों को देगा। इसको लेकर सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने भी सवाल किया। विधायक सुरेंद्र शौरी के एक अन्य सवाल के जवाब में ऊर्जा मंत्री ने कहा कि हिमाचल प्रदेश राज्य विद्युत बोर्ड लिमिटड के पास बंजार विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र से ट्रांसफ़ार्मर व बिजली की लाइन को स्थानान्तरित करने के लिये जनवरी, 2018 से अगस्त, 2020 तक 13 आवेदन प्राप्त हुए हैं। इस प्रकार के स्थानांतरण के लिये खर्चा संबन्धित आवेदक को ही वहन करना होता है। एचपीएसईबीएल में इस तरह के कार्य के लिए धनराशि का प्रावधान नहीं होता है। एक आवेदक ने लाईन को स्थानान्तरित करने का खर्च विद्युत विभाग में जमा करवाया है तथा उसकी जमीन से विद्युत लाईन को स्थानान्तरित किया गया है। शेष 12 आवेदकों ने जमीन से लाइन/ट्रांसफ र्मर स्थानान्तरित करने के लिए खर्चा वहन करने की अभी तक सहमति नहीं दी है। हिन्दुस्थान समाचार/उज्ज्वल-hindusthansamachar.in