नेरचौक मेडिकल कालेज कोविड अस्पताल में तीन और लोगों की ली कोरोना ने जान
नेरचौक मेडिकल कालेज कोविड अस्पताल में तीन और लोगों की ली कोरोना ने जान
हिमाचल-प्रदेश

नेरचौक मेडिकल कालेज कोविड अस्पताल में तीन और लोगों की ली कोरोना ने जान

news

मंडी, 22 सितंबर (हि. स.)। मंडी जिले में अब कोरोना लगातार कहर बरपाता जा रहा है। लगातार तीसरे दिन भी मंडी के नेरचौक मेडिकल कालेज कोविड अस्पताल में मरने वालों का सिलसिला जारी रहा। मंगलवार को एक महिला सहित तीन लोगों की नेरचौक मेडिकल कालेज में मौत हो गई। मंडी शहर के पुरानी मंडी 60 वर्षीय सावित्री देवी को 14 सितंबर को बुखार व अन्य कुछ जटिल रोगों के चलते यहां पर दाखिल करवाया गया था। जो मंगलवार को चल बसी। इसी तरह से छपाद जरोल थुनाग के 64 साल के मंगरू राम को 19 सितंबर को यहां दाखिल करवाया गया था। जिसकी भी मंगलवार को मौत हो गई। हमीरपुर जिले के जांगली बाड़ा नादौन के 77 वर्षीय मस्त राम को भी 19 सितंबर को ही यहां पर लाया गया था। जिसकी भी मंगलवार को मौत हो गई। इस तरह एक ही दिन में तीन लोगों की मौत से हडक़ंप व भय का माहौल पैदा हुआ है। सुंदरनगर में कोरोना का कहर लगातार जारी है। ताजा घटनाक्रम में स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त करोना सैंपल की रिपोर्ट में सुंदरनगर उपमंडल से 8 नए करोना संक्रमित मरीज सामने आए हैं। इसमें सिविल अस्पताल सुंदरनगर के तीन चिकित्सक,एक स्वास्थ्य कर्मी सहित 8 लोग कोरोना पॉजिटिव आए हैं। इन मामलों में स्वास्थ्य कर्मी और दो चिकित्सक सिविल अस्पताल सुंदरनगर से है । जबकि एक डॉक्टर एमएलएसएम कॉलेज के नजदीक से बताए जा रहे हैं। इसके अलावा 48 वर्षीय व्यक्ति निवासी पुंग, 30 वर्षीय व्यक्ति निवासी भोजपुर, 51 वर्षीय व्यक्ति शिव मंदिर महादेव, 23 वर्षीय व्यक्ति निवासी जड़ोल भी कोरोना पॉजिटिव आए हैं । वहीं दूसरी ओर सुंदरनगर के विधायक राकेश जंवाल और पीएसओ के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद हिमाचल प्रदेश भाजपा अनुसूचित जाति (एससी) मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष नितेन कुमार व कार्यकारिणी के 35 पदाधिकारियों ने सात दिन के लिए खुद को आइसोलेट कर लिया है। सुंदरनगर विधानसभा के विधायक राकेश जंवाल के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद नितेन कुमार व अन्य पदाधिकारियों ने यह कदम उठाया है। बता दें कि रविवार को अनुसूचित जाति मोर्चा की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक आयोजित की गई थी। बैठक में राकेश जंवाल व संगठन मंत्री पवन राणा ने भाग लिया था। राकेश जंवाल की रिपोर्ट रविवार रात पॉजिटिव पाई गई थी। वहीं पवन राणा की रिपोर्ट नेगेटिव आई है, फिर भी एहतियातन के तौर पर सभी लोग आइसोलेट हो गए है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी मंडी के कार्यालय का कर्मी भी पॉजटिव निकला है। मंडी में अब तक 18 लोगों की कोरोना से मौत हो गई है और प्रभावितों की तादाद अब 1500 को छूने लगी है। इनमें आधे से अधिक एक्टिव हैं। हिन्दुस्थान समाचार/मुरारी/सुनील-hindusthansamachar.in