नवरात्र : कोरोना संकट के बीच हिमाचल की शक्तिपीठों व मंदिरों में उमड़ी भीड़
नवरात्र : कोरोना संकट के बीच हिमाचल की शक्तिपीठों व मंदिरों में उमड़ी भीड़
हिमाचल-प्रदेश

नवरात्र : कोरोना संकट के बीच हिमाचल की शक्तिपीठों व मंदिरों में उमड़ी भीड़

news

शिमला, 17 अक्टूबर (हि.स.)। कोरोना के जबरदस्त प्रकोप के बीच हिमाचल प्रदेश के शक्तिपीठों व मंदिरों में शनिवार को शारदीय नवरात्र के पहले दिन श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी है। नवरात्र को लेकर श्रद्धालुओं में भारी उत्साह है। व्रत पूजन के साथ श्रद्धालु मां शैलपुत्री की आराधना में लीन हैं। कोरोना से बेखौफ श्रद्धालु बड़ी संख्या में विभिन्न शक्तिपीठों व मंदिरों में दर्शन को पहुंच रहे हैं। कांगड़ा जिले की शक्तिपीठों ज्वालामुखी, मां चामुंडा, ब्रजेश्वरी, ऊना के चिंतपूर्णी और बिलासपुर के नैना देवी में रविवार सुबह से श्रद्धालु जुटना शुरू हो गए थे। इसके अलावा जनपदों में स्थित अन्य मंदिरों में भी श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी। राजधानी शिमला के ऐतिहासिक मंदिरों तारा देवी, कालीबाड़ी, ढिंगु माता और कामना देवी इत्यादि में सुबह से भक्तों का तांता लगा हुआ है। सम्बंधित जिला प्रशासन और मंदिर कमेटियों ने कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए खास इंतजाम किए हैं। श्रद्धालुओं के लिए मास्क पहनना और सामाजिक दूरी का पालन अनिवार्य किया गया है। नियमों की अवहेलना करने वालों से निपटने के लिए पुलिस जवानों की ड्यूटी लगाई गई है। कोरोनावायरस के संक्रमण को देखते हुए मंदिर और शक्तिपीठों में विशेष सुविधा रखी गई है। सोशल डिस्टेंसिंग से लेकर अन्य सावधानी भी बरती जा रही है। श्रद्धालु भी कोरोना का ख्याल रखते हुए और पूरी सर्तकता के साथ देवी की दर्शन के लिए जा रहे हैं। डीजीपी संजय कुंडू ने बताया कि शक्तिपीठों और मंदिरों में कोविड की गाइडलाइन का सख्ती से पालन कराया जा रहा है। मंदिरों में सुरक्षा प्रबंध पुख्ता किये गए हैं और सीसीटीवी कैमरों से गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है। हिन्दुस्थान समाचार/उज्ज्वल-hindusthansamachar.in