कोरोना से बचाव को लेकर जन जागरूकता के लिए चलाएं व्यापक अभियान: डॉ. राजीव सैजल
कोरोना से बचाव को लेकर जन जागरूकता के लिए चलाएं व्यापक अभियान: डॉ. राजीव सैजल
हिमाचल-प्रदेश

कोरोना से बचाव को लेकर जन जागरूकता के लिए चलाएं व्यापक अभियान: डॉ. राजीव सैजल

news

मंडी, 22 सितम्बर (हि.स.)। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. राजीव सैजल ने मंडी में कोरोना से बचाव और रोकथाम के लिए उठाए कदमों की समीक्षा की। बैठक में जिला प्रशासन ने लोगों को कोरोना से बचाव को लेकर जागरूक करने के लिए व्यापक अभियान चलाने के निर्देश दिए। साथ ही जिले में सूचना शिक्षा संचार (आईईसी) अभियान के तहत ठोस कार्ययोजना बना कर विविध संगठनों के सहयोग से प्रभावी तरीके से लागू करने के भी निर्देश दिये। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि सरकार के लिए लोगों के जीवन की सुरक्षा सर्वोपरि है। इसके लिए स्वास्थ्य सेवाओं व सुविधाओं की मजबूती पर जोर दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर का भी इस पर विशेष ध्यान है। मुख्यमंत्री इस ओर भी बल दे रहे हैं कि लोगों को कोरोना से बचाव के तीन सबसे महत्वपूर्ण उपायों को आदत में शामिल करने को लेकर जागरूक किया जाए। संक्रमण से बचाव के लिए हमेशा मास्क-फेस कवर पहनकर घर से निकलना, साबुन से बार-बार हाथ धोना अथवा सेनेटाइजर का प्रयोग और शारीरिक दूरी का पालन करना। इन तीन बातों को सभी लोग आदत बना लें। क्योंबि यही कोरोना संक्रमण से बचाव का कारगर तरीका है। स्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना से बचाव को लेकर समय-समय पर सरकार जारी दिशा निर्देशों को जमीनी स्तर पर सही तरीके से लागू करने में सराहनीय भूमिका के लिए मंडी जिला प्रशासन की पूरी टीम की तारीफ की। डॉ. राजीव सैजल ने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के मार्गदर्शन में हिमाचल प्रदेश कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में बेहतरीन ढंग से निपट रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी इसके लिए प्रदेश की तारीफ कर चुके हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि इसके लिए पहली पंक्ति में खड़े रह कर कोरोना ड्यूटी करने वाले सभी कोरोना योद्धाओं का योगदान महत्वपूर्ण है। बैठक में उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने स्वास्थ्य मंत्री को जिला में कोरोना की स्थिति और बचाव व रोकथाम के लिए उठाए कदमों के बारे में अवगत करवाया। उन्होंने मंत्री को विश्वास दिलाया कि जिले में जल्द ही आईईसी कैंपेन का दूसरा चरण शुरू किया जाएगा। बैठक में विधायक इंद्र सिंह गांधी ने नेरचौक अस्पताल में ओपीडी सुविधा बहाल करने के लिए वैकल्पिक व्यवस्था करने का आग्रह किया। हिन्दुस्थान समाचार/मुरारी/सुनील-hindusthansamachar.in