कांगड़ा में ई-डिस्ट्रिक्ट प्रणाली शुरू, अब घर बैठे ही बनवा सकेंगे जरूरी प्रमाण पत्र
कांगड़ा में ई-डिस्ट्रिक्ट प्रणाली शुरू, अब घर बैठे ही बनवा सकेंगे जरूरी प्रमाण पत्र
हिमाचल-प्रदेश

कांगड़ा में ई-डिस्ट्रिक्ट प्रणाली शुरू, अब घर बैठे ही बनवा सकेंगे जरूरी प्रमाण पत्र

news

धर्मशाला, 29 जुलाई (हि.स.)। कांगड़ा जिला में ई-डिस्ट्रिक्ट प्रणाली शुरू की गई है। इस प्रणाली के शुरू हो जाने से अब तहसील व उप-तहसील में बनने वाले राजस्व प्रमाण पत्र सहित अन्य प्रमाण पत्र बनाने के लिए ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है। यदि किसी व्यक्ति को तहसील-उप तहसील से किसी प्रमाण पत्र की जरूरत है तो वह ई-डिस्ट्रिक्ट वेबसाई पर लॉगइन करके संबंधित प्रमाण पत्र के लिए आवेदन कर सकता है और अपने दस्तावेज भी अपलोड कर सकता है। उपायुक्त कांगड़ा राकेश प्रजापति ने बताया कि इस प्रणाली के माध्यम से पिछड़ा क्षेत्र, कानूनी वारिस, अल्पसंख्यक, कृषक, डोगरा क्लास, चरित्र प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, बोनाफाइड, आय प्रमाण पत्र, ओबीसी प्रमाण पत्र, स्वतंत्रता सेनानी प्रमाण पत्र, स्थाई निवासी इत्यादि विभिन्न प्रमाण पत्र ऑनलाइन बनवाए जा सकते हैं। उन्होंने नागरिकों से ऑनलाइन सेवा ई-डिस्ट्रिक्ट प्रणाली का अधिक से अधिक उपयोग करने का आहवान किया जिससे कि वे कोरोना वायरस महामारी के काल में तहसील-उप तहसील कार्यालयों पर होने वाली भीड़ से दूर रह सकें। उन्होंने बताया कि प्रमाण पत्रों के सभी आवेदनों का समयबद्ध तरीके से निष्पादन किया जाएगा। तहसील-उप तहसील से आवेदन की स्वीकृति के बाद आवेदक स्वयं प्रमाण पत्र को डाउनलोड और प्रिंट कर पाएगा। नागरिकों द्वारा उक्त आवेदनों के लिए अपने नजदीकी लोक मित्र केंद्र की सेवाओं का उपयोग भी किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि इसके लिये राजस्व विभाग द्वारा लोक मित्र केंद्र की राजस्व प्रमाण पत्रों से जुड़ी सेवाओं के लिए फीस निर्धारित की गई है जिसमें 17 रुपए सरकारी प्रभार, 10 रुपए आवेदन फीस, 10 रुपए प्रिंटिंग शुल्क और 2 रुपए प्रति पेज स्कैनिंग चार्ज निर्धारित किए गए हैं। यदि कोई लोक मित्र केंद्र नागरिकों से इससे अधिक शुल्क वसूलता है तो उसे शिकायत मिलने पर तुरंत बंद कर दिया जाएगा । हिन्दुस्थान समाचार/सतेंद्र/सुनील-hindusthansamachar.in