संतोख सिंह बोले तीन कानूनों के विरोध में 22 जुलाई को संसद पर देंगे धरना

संतोख सिंह बोले तीन कानूनों के विरोध में 22 जुलाई को संसद पर देंगे धरना
santok-singh-said-that-he-will-stage-a-sit-in-on-the-parliament-on-july-22-against-the-three-laws

गुरुग्राम, 21 जुलाई (हि.स.)-गुरुग्राम। संयुक्त किसान मोर्चा गुरुग्राम के अध्यक्ष संतोख सिंह ने कहा कि तीन कानूनों के विरोध में यहां धरने पर बैठे किसान 22 जुलाई से संसद के बाहर शांतिपूर्वक धरना-प्रदर्शन करेंगे। उन्होंने कहा कि किसान लगातार 237 दिन से दिल्ली के चारों तरफ तथा विभिन्न स्थानों पर तीन काले कानूनों के खिलाफ धरने पर बैठे हुए हैं, लेकिन सरकार किसानों की बात सुन नहीं रही है।

उन्होंने कहा कि 22 जुलाई 2021 से हर दिन संयुक्त किसान मोर्चा से जुड़े संगठनों के प्रदर्शनकारी भारतीय संसद के बाहर विरोध प्रदर्शन करेंगे। संयुक्त किसान मोर्चा ने विपक्षी दलों को यह सुनिश्चित करने के लिए पत्र भी लिखा है कि वे सक्रिय रूप से किसानों की मांगों को उठाएं। इस बावत संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा कि हम चाहते हैं कि विपक्षी दल यह सुनिश्चित करें कि किसानों का आंदोलन और उसकी मांगें मुख्य मुद्दा बने। हमारी मांगों को पूरा करने के लिए सरकार पर दबाव डाला जाए। हम नहीं चाहते कि विपक्ष हंगामा करे या कार्यवाही से बाहर जाए। संसद के अंदर रचनात्मक रूप से शामिल हों, जबकि किसान बाहर विरोध करेंगे। उन्होंने कहा कि किसानों का आंदोलन आठ महीने से शांतिपूर्वक चल रहा है और संसद के बाहर भी किसान शांतिपूर्वक अपनी मांगों के समर्थन में धरना प्रदर्शन करेंगे। उन्होंने कहा कि किसानों की मांग है कि तीनों काले कानून रद्द किए जाने और एसएसपी की गारंटी का कानून बनाया जाए।

हिन्दुस्थान समाचार/ईश्वर/संजीव