दिल्ली में योग को जन आंदोलन बनाया जायेगा: अरविंद केजरीवाल

दिल्ली में योग को जन आंदोलन बनाया जायेगा: अरविंद केजरीवाल
yoga-will-be-made-a-mass-movement-in-delhi-arvind-kejriwal

नई दिल्ली, 20 जून (हि.स.)। महामारी के इस दौर में बेहतर स्वास्थ्य के लिए योग बेहद ज़रुरी है। इसी को देखते हुए दिल्ली में योगा और मेडिटेशन को घर-घर तक पहुंचाने के लक्ष्य के साथ दिल्ली सरकार ने रविवार को नए योगा केंद्र की शुरुआत की है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को दिल्ली सरकार द्वारा बनाए गए योग एवं मेडिटेशन ट्रेनिंग सेंटर का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि 2 अक्टूबर के बाद योगा करने वाले लोगों को दिल्ली सरकार मुफ्त में योगा इंस्ट्रक्टर उपलब्ध कराएगी। अभी हमारे पास 450 योगा इंस्ट्रक्टर हैं। मुख्यमंत्री ने आने वाले योग दिवस को देखते हुए एक बड़ा ऐलान भी किया। उन्होंने कहा कि यदि आप ग्रुप बनाकर योग सीखना चाहें तो दिल्ली सरकार मुफ़्त में योगा ट्रेनर उपलब्ध कराएगी। उन्होंने कहा कि हमने तय किया कि योग के लिए एक बजट तय किया जायेगा। दिल्ली में योग को जन आंदोलन बनाया जायेगा। इस दौरान अरविंद केजरीवाल ने 'मेडिटेशन और योग विज्ञान' में एक वर्षीय डिप्लोमा कोर्स शुरू किया, जिसमें लगभग 450 उम्मीदवारों ने अपना रजिस्ट्रेशन कराया है। उन्होंने कहा कि एक अक्टूबर से ये प्रशिक्षक दिल्ली के विभिन्न हिस्सों में लोगों को नि:शुल्क ट्रेनिंग देंगे। हिन्दुस्थान समाचार/ श्वेतांक

अन्य खबरें

No stories found.