जहाँ वोट, वहीं वैक्सीन अभियान के मार्फ़त अपनी जमीन मजबूत करने में जुटी आप, केजरीवाल भी पहुंचे टीकाकरण केंद्र

जहाँ वोट, वहीं वैक्सीन अभियान के मार्फ़त अपनी जमीन मजबूत करने में जुटी आप, केजरीवाल भी पहुंचे टीकाकरण केंद्र
where-votes-you-are-trying-to-strengthen-their-ground-through-the-vaccine-campaign-kejriwal-also-reached-the-vaccination-center

नई दिल्ली , 09 जून ( हि. स.)। दिल्ली सरकार ने "जहाँ वोट, वहीं वैक्सीन" अभियान तेज कर दिया है। बुधवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल खुद इस अभियान का हाल जानने तिमारपुर के लांसर रोड स्कूल के वैक्सिनेशन सेंटर पर पहुंचे।उनके साथ उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और आप नेता दिलीप पांडेय भी मौजूद रहे। इस दौरान मुख्यमंत्री ने पत्रकारों के सवालों के जवाब भी दिए। एक सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि 'हम शुक्रगुजार हैं न्यायालय के जिसकी दखल के बाद ही सही कम से कम केंद्र सरकार ने राज्यों को वैक्सीन देने की जिम्मेदारी उठाई है। उन्होंने मजाकिया अंदाज में कहा 'देर आये दुरुस्त आए'। वहीं जब मुख्यमंत्री से सवाल किया गया कि अब स्पूतनिक या दूसरे टीके दिल्ली सरकार कब तक उपलब्ध करवाएगी। इसके जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि उसकी तो जरूरत ही अब नहीं है अब तो केंद्र सरकार ही सबकुछ मुहैया करवा रही रही है। अगर सही तरह से वैक्सीन उपलब्ध हो जाये तो 3 से 4 महीने में पूरे देश को वैक्सीन लग सकती है। जानकारों का मानना है कि "जहाँ वोट, वहीं वैक्सीन" अभियान के माध्यम से आम आदमी पार्टी जनता से सीधे जुड़ने में लगी हुई है। पार्टी ये जानती है कि वोट और वैक्सीनेशन का मेल करके लोगों के बीच एक बड़ा सन्देश दिया जा सकता है। इसी लिए पार्टी ने उस स्थान को वैक्सिनेशन के लिए चुना है जहां लोग वोट डालने जाते हैं। यही वजह है कि पार्टी के अलग अलग नेता घर-घर जाकर लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित करते दिख रहे हैं। इसके साथ ये सन्देश देने की कोशिश भी की जा रही है कि वैक्सीन मुहैया करवाने में मुख्यमंत्री केजरीवाल ने केंद्र सरकार से एक लम्बी लड़ाई लड़ी है। और ये सब उन्होंने दिल्ली की जनता के लिए किया है। इस बात की एक झलक मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के ट्वीट में भी देखने को मिलती है। वैक्सीनेशन सेंटर पर पहुंचे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने ट्विटर हैंडल से एक सन्देश जारी करते हुए लिखा कि "जहाँ वोट, वहीं वैक्सीन" अभियान के तहत शुरू हुए एक सेंटर का आज दौरा किया। वहाँ लोग इस बात को लेकर बेहद खुश नज़र आए कि उनके घर के पास ही जहाँ वोट डालने आए थे वहीं अब वैक्सीन भी लग रही है। ऑनलाइन बुकिंग का भी झंझट नहीं, बूथ ऑफ़िसर लोगों के घर जाकर स्लॉट दे कर आ रहे हैं। हिन्दुस्थान समाचार/ श्वेतांक