two-farmers-died-at-the-ticking-border
two-farmers-died-at-the-ticking-border
दिल्ली

टिकरी बॉर्डर पर दो किसानों की मौत

news

-एक किसान ने की आत्महत्या, दूसरे की हार्ट अटैक से मौत नई दिल्ली, 07 फरवरी (हि.स.)। किसान आंदोलन के दौरान टिकरी बॉर्डर पर रविवार को दो किसानों की मौत हो गई। इनमें जींद के एक किसान ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली, तो वहीं दूसरे किसान की हार्ट अटैक होने से मौत हुई है। जानकारी के अनुसार जींद के किसान की पहचान कर्मवीर के रूप में हुई है। जींद जिले के सिंगोंवाल गांव का रहने वाला था। 52 वर्षीय कर्मवीर कल रात टिकरी बॉर्डर पहुंचा था। सरकार से परेशान होकर कर्मवीर ने नए बस स्टैंड के नजदीक पेड़ से फंदा लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। बताया जा रहा है कि कर्मवीर की तीन बेटियां हैं जिनमें से एक की शादी हो चुकी है। वहीं कर्मवीर ने सुसाइड नोट भी लिखा है जिसमें सरकार पर हल निकालने की बजाए तारीख पे तारीख देने का आरोप लगाया है। कर्मवीर ने सुसाइड नोट में लिखा है भारतीय किसान यूनियन जिंदाबाद, प्यारे किसान भाइयों ये सरकार हल निकालने के बजाय तारीख पर तारीख दे दे रही है। अभी कोई अंदाजा नहीं है कि ये कानून कब रद्द होंगे। पंजाब के किसान की हार्ट अटैक से मौत आज सुबह करीब आठ बजे पंजाब के एक किसान की दिल को दौरा पड़ने से मौत हो गई। उसकी पहचान पंजाब के सुखमिंदर सिंह के रूप में हुई है। सुखमिंदर पंजाब के गांव दूरकोट जिला मोगा का रहने वाला था। 60 वर्षीय सुखविंदर की सुबह दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई। पुलिस ने दोनों किसानों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए नागरिक अस्पताल बहादुरगढ़ भिजवाया दिया है। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी-hindusthansamachar.in

AD
AD