किराएदारों के सत्यापन के लिए रोहिणी सेक्टर-11 और शाहबाद डेयरी क्षेत्र में लगाया कैंप
किराएदारों के सत्यापन के लिए रोहिणी सेक्टर-11 और शाहबाद डेयरी क्षेत्र में लगाया कैंप
दिल्ली

किराएदारों के सत्यापन के लिए रोहिणी सेक्टर-11 और शाहबाद डेयरी क्षेत्र में लगाया कैंप

news

नई दिल्ली, 24 जुलाई (हि.स.) राजधानी में अपराधों पर अंकुश लगाने के लिए दिल्ली पुलिस हर समय तैयार रहती है, वहीं जनहित के कार्यों के माध्यम से भी वह जनता के बीच बनी रहती है। कोरोना के दौर में जब लोगों को घरों से बाहर जाने की मनाही थी और पुलिस भी इन दिनों काफी व्यस्त थी तो मकान मालिक अपने किरेदारों का सत्यापन कैसे करवाते। बीते कुछ दिनों से मकान मालिकों के समक्ष यह एक गंभीर समस्या बनी हुई थी। इस समस्या पर गौर करते हुए बाहरी उत्तरी जिले के डीसीपी गौरव शर्मा ने मकान मालिकों को थाने न बुलाकर उनके क्षेत्र में ही पुलिस अधिकारियों की देख-रेख में कैंप लगवाया। इंस्पेक्टर बलबीर सिंह के नेतृत में किराएदार सत्यापन के लिए कैंप लगाने की योजना बनी। इसके तहत रोहिणी सेक्टर-11 और शाहबाद डेयरी क्षेत्र में दो दिन गुरुवार और शुक्रवार को सुबह 11 से दोपहर 4 बजे तक दो दिवसीय कैंप का आयोजन किया गया। इस कैंप में क्षेत्र के सैंकंड़ों लोगों ने किराएदारों की वेरिफिकेशन के लिए फार्म जमा किए और अन्य समस्याओं के बारे में जाना। इंसपेक्टर बलबीर सिंह ने बताया कि हमारा उद्देशय लोगों की समस्याओं को कम करना है। कैंप लगाने का मुख्य कारण उन मकान मालिकों को राहत देना था जो अधिक उम्र होने, विकलांग होने, बीमारी के कारण या अन्य किसी मजबूरी बस थाने तक जाने में असमर्थ होते हैं। इसलिए पुलिस ने अपने थाना क्षेत्र के विभिन्न इलाकों में कैंप लगाने की योजना बनाई है। आने वाले समय में भी इस प्रकार के कैंप लगाए जाएंगे ताकि कोई किराएदार सत्यापन के बिना ना रह पाए। हिन्दुस्थान समाचार / राजेश-hindusthansamachar.in