फंड जारी करने के बावजूद एमसीडी ने अभी तक अपने हॉस्पिटल स्‍टाफ को वेतन नहीं द‍िया : राघव चड्ढा
फंड जारी करने के बावजूद एमसीडी ने अभी तक अपने हॉस्पिटल स्‍टाफ को वेतन नहीं द‍िया : राघव चड्ढा
दिल्ली

फंड जारी करने के बावजूद एमसीडी ने अभी तक अपने हॉस्पिटल स्‍टाफ को वेतन नहीं द‍िया : राघव चड्ढा

news

नई दिल्ली, 24 जुलाई (हि.स.)। दिल्ली नगर निगम के अंतर्गत आने वाले अस्पतालों के स्टाफ को वेतन न मिलने के मुद्दे पर आम आदमी पार्टी ने भारतीय जनता पार्टी पर हमला बोला है। आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता और विधायक राघव चड्ढा ने शुक्रवार को कहा कि मौजूदा संकट को देखते हुए दिल्ली सरकार ने एमसीडी को बहुत समय पहले फंड जारी कर दिया था। बावजूद इसके, एमसीडी ने अभी तक अपने अंतर्गत आने वाले हॉस्पिटल्स के स्टाफ को उनका वेतन नहीं दिया है। राघव चड्ढा का आरोप है कि एमसीडी के हॉस्पिटल में काम करने वाले डॉक्टर्स, नर्स सहित तमाम मेडिकल स्टाफ को बीते 4 महीनों से वेतन नहीं दिया जा रहा है। चड्ढा ने कहा कि पूरा देश कोरोना से लड़ रहा है। संकट के इस समय में डॉक्टर्स, नर्स और हेल्थ सर्विसेज से जुड़े लोग सीधे कोरोना की महामारी से लड़ रहे है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि हिंदूराव हॉस्पिटल और कस्तूरबा गांधी हॉस्पिटल की गिनती दिल्ली के बड़े अस्पतालों में की जाती है। इन दोनों बड़े अस्पताल का संचालन भाजपा शासित दिल्ली नगर निगम द्वारा किया जा रहा है। दिल्ली की केजरीवाल सरकार द्वारा फंड रिलीज किए जाने के बावजूद एमसीडी ने अभी तक इन हॉस्पिटल में कार्यरत डॉक्टर्स, नर्स सहित अन्य मेडिकल स्टाफ को बीते 4 महीनों से वेतन नहीं दिया है। उन्होंने कहा कि एमसीडी में भाजपा दशकों से काबिज है। उन्होंने कहा कि असल योद्धा को परेशान मत करो। स्वास्थ्य कर्मियों को सम्मान नहीं कर सकते हैं तो उनको जरूरत का सामान ही दे दो। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि हिन्दू राव अस्पताल, कस्तूरबा गांधी अस्पताल के कर्मचारियों को 4 महीने से सैलेरी नहीं मिल रही है। हिन्दुस्थान समाचार /प्रतीक खरे-hindusthansamachar.in