सोनिया अस्पताल में पुलिस कर्मियों की सूझबूझ से 70 कोविड मरीजों की जान बची

सोनिया अस्पताल में पुलिस कर्मियों की सूझबूझ से 70 कोविड मरीजों की जान बची
police-personnel-at-sonia-hospital-save-the-lives-of-70-kovid-patients

नई दिल्ली, 03 मई (हि.स.)। बाहरी दिल्ली के नांगलोई के सोनिया अस्पताल में रविवार दोपहर पुलिस कर्मियों की सूझबूझ से 70 कोविड मरीजों की जान बच गई। दरअसल अस्पताल ऑक्सीजन ला रहा ट्रक रास्ते में खराब हो गया। अस्पताल में ऑक्सीजन भी खत्म होने ही वाली थी। ऐसे समय में पुलिस कर्मियों ने ट्रक को जिप्सी में बाधा और करीब साढ़े तीन किलोमीटर ट्रक को खींचकर समय पर अस्पताल पहुंचाया। पुलिस की सूझबूझ की वजह से खत्म होने से पूर्व ही ऑक्सीजन पहुंच गई। अस्पताल ने पुलिस कर्मियों का धन्यवाद किया। वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने बताया कि रविवार दोपहर करीब 1.50 बजे सूचना मिली कि सोनिया अस्पताल नांगलोई में ऑक्सीजन खत्म होने वाली है। इनके यहां ऑक्सीजन ला रहा ट्रक उद्योग विहार मेट्रो स्टेशन के पास खराब हो गया है। अस्पताल में उस समय 70 कोविड मरीज भर्ती थे। सूचना मिलते ही पश्चिम विहार वेस्ट थाने की एक टीम को तुरंत मौके पर भेजा गया। ईआरवी जिप्सी लेकर एएसआई सुरेश और श्रीभगवान मौके पर पहुंचे। क्रेन बुलवाकर ट्रक को खिंचवाने का समय नहीं था। ऐसे में दोनों जवानों ने ट्रक को जिप्सी से खींचने का फैसला किया। हालांकि लोगों ने इसका विरोध भी किया, लेकिन दोनों ने जाखिम लिया। ट्रक को जिप्सी से बांधकर उसे करीब साढ़े तीन किलोमीटर खींचकर अस्पताल समय से पहुंचा दिया गया। ट्रक में 3.88 क्यूबिक मेट्रस लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन मौजूद थी। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी