police-commissioner-holds-lockdown-review-meeting
police-commissioner-holds-lockdown-review-meeting
दिल्ली

पुलिस आयुक्त ने लॉकडाउन रिव्यू मीटिंग की

news

नई दिल्ली, 22 मई (हि.स.)। दिल्ली पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव ने शनिवार को कोविड के दौरान वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये मिड-लॉकडाउन रिव्यू मीटिंग ली। इस दौरान पुलिस आयुक्त ने फ्रंट लाइन वर्कर के रूप में काम कर रहे दिल्ली पुलिस जवानों के परिवारों की चिंता करते हुए उनको प्राथमिकता के साथ वैक्सीन लगवाने की बात की। पुलिस आयुक्त का कहना था कि चूंकि खुद जवान हाई रिस्क में रहते हैं ऐसे में उनके परिवार पर भी कोरोना संक्रमित होने का खतरा मंडराता रहता है। ऐसे में जवानों के परिवार वालों को भी तुरंत वैक्सीन लग जानी चाहिए। उन्होंने सभी पुलिस अधिकारियों से कोविड के दौरान होने वाले अपराधों पर खास तौर से नजर रखने और अपराधियों को जल्द पकड़ने के आदेश दिए। पुलिस आयुक्त ने खास तौर पर होने वाले साइबर अपराधों पर नजर रखने के लिए कहा। इसके अलावा जो लोग दवाईयों व दूसरे जरूरी उपकरणों की कालाबाजारी कर रहे हैं उनके खिलाफ सख्त एक्शन लेने के आयुक्त ने आदेश दिए। मीटिंग के दौरान सभी थाना प्रभारियों को आदेश दिया गया कि वह अपने-अपने इलाकों में अपराधियों पर नजर रखें। इसके अलावा जिन बच्चों के माता-पिता की कोविड से मौत हो गई है, उनका भी ध्यान रखा जाए। लॉकडाउन के दौरान सभी थाना प्रभारियों को सब्जी मंडी, परचून की दुकान और अन्य मार्केट में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाने के लिए भी कहा गया। आयुक्त ने बताया कि कोविड की तीसरी लहर भी आने की बात की जा रही है, सभी को उससे भी सावधान रहना है। पुलिस आयुक्त ने कहा कि उनके लिए दिल्ली वासियों और उनके स्टाफ की सुरक्षा सबसे अव्वल है। मीटिंग के दौरान सभी स्पेशल सीपी, ज्वाइंट सीपी, डीसीपी, एसीपी और एसएचओ मौजूद रहे। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी