दिल्ली में कोरोना से जुड़ी दवाओं की कालाबजारी रोकने के लिए उपराज्यपाल ने सरकार को दिए निर्देश

दिल्ली में कोरोना से जुड़ी दवाओं की कालाबजारी रोकने के लिए उपराज्यपाल ने सरकार को दिए निर्देश
lieutenant-governor-gave-instructions-to-the-government-to-stop-the-marketing-of-medicines-related-to-corona-in-delhi

नई दिल्ली, 22 मई (हि. स.)। दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने कोरोना संक्रमण के उपचार में प्रयोग होने वाली दवाओं की कालाबाजारी रोकने के लिए कई अहम फैसले लिए हैं। इसके मद्देनजर शनिवार को दिल्ली के उपराज्यपाल और डीडीएमए के अध्यक्ष अनिल बैजल ने राज्य सरकार को निर्देश दिया है। उपराज्यपाल की तरफ से दिल्ली सरकार को दिए गए निर्देशों कहा गया है कि लोगों को कोरोना संक्रमण के इलाज से संबंधित आवश्यक दवाएं उपलब्ध कराई जाएं और यह भी सुनिश्चित किया जाए कि डीलरों या विक्रेताओं द्वारा ऐसी दवाइयों पर ज्यादा मूल्य न लिया जाए। साथ ही दवाओं की कालाबाजारी न हो ये भी सुनिश्चित किया जाए। इसके साथ ही डीडीएमए की ओर से जारी आदेश के अनुसार, दिल्ली में कोरोना के इलाज से संबंधित आवश्यक दवाएं उपलब्ध कराने वाले सभी अधिकृत डीलर, खुदरा विक्रेता और विक्रेता आम जनता के लिए अपने व्यावसायिक परिसरों में विशिष्ट स्थानों पर दवाओं के स्टॉक और उनके दाम की जानकारी प्रदर्शित करेंगे। स्टॉक की स्थिति दिन में चार बार सुबह 10 बजे, दोपहर 2 बजे, शाम 6 बजे और रात 9 बजे अपडेट करनी होगी। उपराज्यपाल की तरफ से यह भी निर्देश दिया है कि कोरोना से संबंधित उपकरणों और मशीनों जैसे पल्स ऑक्सीमीटर, ऑक्सीजन ,सिलेंडर और ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर आदि के संबंध में एक समान आदेश जल्द से जल्द जारी किया जाए। फिलहाल दिल्ली में कोरोना का संकट कम हो रहा है। शनिवार को दिल्ली सरकार की तरफ से जारी किये गये बुलेटिन के आधार पर बीते 24 घंटे में यहां कोरोना संक्रमण के कारण 182 लोगों की मृत्यु हुई है। जोकि बीते कई दिनों में सबसे कम संख्या है। वहीं संक्रमण दर 3.58 प्रतिशत पर पहुंच गई है।दिल्ली में कोरोना की रफ़्तार काफी कम हो गई है।पिछले 24 घंटे में सिर्फ 2200 केस आए है। मुख्यमंत्री ने कहा कि लेकिन इसका मतलब ये न समझा जाए कि कोरोना का खतरा टल गया है। हिन्दुस्थान समाचार/ श्वेतांक