kejriwal-showed-delhi-model-in-kisan-mahapanchayat
kejriwal-showed-delhi-model-in-kisan-mahapanchayat
दिल्ली

किसान महापंचायत में केजरीवाल ने दिखाया दिल्ली मॉडल

news

नई दिल्ली, 4 अप्रैल (हि.स.)। आम आदमी पार्टी (आप) की तरफ से हरियाणा के जींद में चल रही किसान महापंचायत में दिल्ली मॉडल की खूब धमक रही। मंच से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में अपने काम की कई बार चर्चा की। केजरीवाल ने हरियाणा में अपनी राजनीतिक जमीन को तैयार करने के लिए महापंचायत का बखूबी इस्तेमाल भी किया। मंच से बोलते हुए केजरीवाल ने दिल्ली सरकार की तारीफ तो की ही साथ में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर चुनकर-चुनकर सवाल दागे। केजरीवाल ने कहा कि ‘आप दक्षिण भारत, उत्तर-पूर्व, जम्मू-कश्मीर, गुजरात जाकर पूछ लो कि केजरीवाल ने कुछ काम किया? वो कहते है, स्कूल-अस्पताल ठीक कर दिए, बिजली सस्ती कर दी। पूरे देश में पूछ लो भाजपा ने कुछ किया तो वो कहते हैं कि किसान-युवा-व्यापारी बर्बाद कर दिए।' केजरीवाल किसान महापंचायत में उपराज्यपाल की शक्तियों को बढ़ाने वाले दिल्ली शासन एक्ट संशोधित बिल की चर्चा करना भी नहीं भूले उन्होंने इशारों इशारों में कहा कि ‘सभी पार्टियां चाहती है कि मैं इनके जैसा हो जाऊं, थोड़ा मैं कमाऊं, थोड़ा इनको कमा कर दूँ तो ये मेरी शक्तियां नहीं छीनते। अब दिल्ली में चुने हुए मुख्यमंत्री की कोई शक्ति नहीं होगी, पूरी शक्तियां उपराज्यपाल के पास होगी। ’ केजरीवाल ने यहीं नहीं रुके उन्होंने कहा कि ‘मैं भाजपा वालों से कहना चाहता हूँ, स्कूल और अस्पताल बनाने के लिए शक्तियों की जरूरत नहीं होती, बल्कि नियत की जरूरत होती है।’ केजरीवाल ये बात अच्छी तरह से जानते हैं कि हरियाणा इस समय एक राजनीतिक रिक्तता से जूझ रहा है। वहां न ही भाजपा के पास पूर्ण बहुमत है न ही दूसरी पार्टियों के पास इतनी सीटें की वह अपने दम पर सरकार बना सके। इन्ही बातों को ध्यान में रखकर उन्होंने हरियाणा में अपनी पार्टी का विस्तार करने का दांव चला है। जानकार इस किसान महापंचायत को उसी विस्तार की एक कड़ी मान रहे हैं। हिन्दुस्थान समाचार/श्वेतांक