केजरीवाल 15 दिनों के अंदर 10 लाख गरीबों को मुफ्त राशन मुहैया कराएं, नहीं तो भाजपा करेगी आंदोलन : बिधूड़ी
केजरीवाल 15 दिनों के अंदर 10 लाख गरीबों को मुफ्त राशन मुहैया कराएं, नहीं तो भाजपा करेगी आंदोलन : बिधूड़ी
दिल्ली

केजरीवाल 15 दिनों के अंदर 10 लाख गरीबों को मुफ्त राशन मुहैया कराएं, नहीं तो भाजपा करेगी आंदोलन : बिधूड़ी

news

नई दिल्ली, 23 जुलाई (हि.स.)। दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी और सांसद गौतम गंभीर ने दिल्ली सरकार से राजधानी के 10 लाख गरीबों के राशन कार्ड तुरंत बनाकर उन्हें मुफ्त राशन की आपूर्ति शुरू करने की मांग की है। भाजपा के दोनों नेताओं ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को आगाह किया है कि अगर सत्तारूढ़ दल आम आदमी पार्टी (आप) आने वाले 15 दिनों के अंदर यह कार्य नहीं शुरू करती तो फिर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के नेतृत्व में पूरे दिल्ली भर में केजरीवाल सरकार के खिलाफ आंदोलन करेंगे। नेता प्रतिपक्ष बिधूड़ी और सांसद गंभीर गुरुवार को संयुक्त पत्रकार वार्ता को संबोधित कर रहे थे। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि पिछले छह साल से केजरीवाल सरकार ने एक भी गरीब को राशन कार्ड बनाकर नहीं दिया है जबकि 10 लाख लोगों ने नए राशन कार्डों के लिए आवेदन कर रखा है। वहीं दिल्ली हाईकोर्ट ने 7 मई को दिल्ली सरकार को उन गरीबों को राशन देने के निर्देश दिए थे जिनके पास कोई राशनकार्ड नहीं है। उन्होंने कहा कि खुद मुख्यमंत्री केजरीवाल ने भी 6 अप्रैल को दिल्ली के 10 लाख गैर राशन कार्ड धारकों को मुफ्त राशन देने की बात कही थी। दोनों नेताओं ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली केन्द्र सरकार राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम तथा 'प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना' के तहत दिल्ली के 72 लाख गरीब लोगों को प्रतिमाह 8 किलो गेहूं, 2 किलो चावल तथा एक किलो दाल मुफ्त उपलब्ध करा रही है। इसके अलावा अंत्योदय अन्न योजना के तहत आने वाले परिवारों को प्रतिमाह एक किलो चीनी भी दी जा रही है। इन योजनाओं पर केन्द्र सरकार प्रतिमाह करीब 300 करोड़ रुपये खर्च कर रही है। उन्होंने कहा कि अब दिल्ली सरकार केंद्र सरकार की ' प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का नाम बदलकर 'मुख्यमंत्री घर-घर राशन योजना' करने जा रही है जो कि सरासर गलत है। भाजपा इसको किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं करेगी। हिन्दुस्थान समाचार/वीरेन-hindusthansamachar.in