driving-a-two-wheeler-in-the-capital-is-fatal
driving-a-two-wheeler-in-the-capital-is-fatal
दिल्ली

राजधानी में दोपहिया वाहन चलाना जानलेवा !

news

नई दिल्ली, 10 फरवरी (हि.स.)। राजधानी दिल्ली में दोपहिया वाहन चलाना जानलेवा होते जा रहा है। ट्रैफिक पुलिस द्वारा जारी आंकड़ो को देखे तो पता चलता है कि दिल्ली में होने वाले सड़क हादसों में 35 फीसदी से ज्यादा मौत दोपहिया चालकों की हुई है। इन हादसों के कई कारण हैं, जिनमें से एक बड़ा कारण दोपहिया सवार का हेलमेट नहीं पहनना है। ट्रैफिक पुलिस के संयुक्त आयुक्त मनीष अग्रवाल ने लोगों से अपील की है कि वह दोपहिया पर सवार होते समय हेलमेट अवश्य पहनें। ट्रैफिक पुलिस के संयुक्त आयुक्त मनीष अग्रवाल ने बताया कि राजधानी में सड़क हादसों को कम करने के लिए ट्रैफिक पुलिस लगातार प्रयास कर रही है। बीते कुछ वर्षों में इसके सकारात्मक परिणाम देखने को मिले हैं। वर्ष 2020 में भी सड़क हादसों में 19 फीसदी की कमी आई है। सड़क हादसों के कारणों को लेकर ट्रैफिक पुलिस रिसर्च करती है। इसके जरिये हादसे के कारणों का पता लगाया जाता है और उन्हें ठीक करने का प्रयास किया जाता है। इसके अलावा हादसों को कम करने के लिए लोगों को जागरूक करने व उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त एक्शन भी लिया जाता है। हादसों में 35 फीसदी मौत दोपहिया सवारों की संयुक्त आयुक्त ने बताया कि राजधानी में होने वाले सड़क हादसों में सबसे ज्यादा लोग शिकार होने वाले दोपहिया चालक हैं। आंकड़े बताते हैं कि 2020 में सड़क हादसों में मरने वाले 35 फीसदी दोपहिया सवार थे। इसके कई कारण हैं जैसे तेज रफ्तार, जिग-जैग करते हुए दोपहिया चलाना, ओवर टेकिंग का प्रयास व हेलमेट नहीं होना। उन्होंने बताया कि लोग कई बार दोपहिया चलाते समय या पीछे बैठकर हेलमेट नहीं लगाते। हमारे शरीर में सिर एक बेहद नाजुक अंग होता है। ऐसे में बिना हेलमेट लगाए अगर कोई दोपहिया सवार हादसे का शिकार हो जाता है तो हेड इंजरी से उसकी मौत हो सकती है। वहीं ऐसा देखने में आया है कि अगर दोपहिया सवार ने हेलमेट लगा रखा हो तो उसका काफी बचाव हो जाता है। ट्रैफिक पुलिस द्वारा जारी आंकड़े सड़क हादसे 2019 2020 सड़क हादसे में मौत 1433 1182 दोपहिया हादसे की संख्या 487 432 दुपहिया की मौत 496 441 बिना हेल्मेट चालान 1036151 91257 हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी-hindusthansamachar.in

AD
AD