delhi-minorities-commission-demands-legal-action-against-yeti-narasimhanand
delhi-minorities-commission-demands-legal-action-against-yeti-narasimhanand
दिल्ली

दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग ने की यति नरसिंहानंद के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग

news

नई दिल्ली, 07 अप्रैल (हि.स.)। दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग ने दिल्ली पुलिस आयुक्त को एक नोटिस भेजकर गत 2 अप्रैल को रायसेन रोड स्थित प्रेस क्लब ऑफ इंडिया में आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का हवाला देते हुए दीपक त्यागी उर्फ यति नरसिंहानंद सरस्वती के खिलाफ उचित कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है। आयोग के अध्यक्ष जाकिर खान द्वारा भेजे गए नोटिस में कहा गया है कि दीपक त्यागी उर्फ यति नरसिंहानंद सरस्वती ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से सोची समझी रणनीति के तहत दिल्ली का साम्प्रदायिक माहौल बिगाड़ने का प्रयास किया है। उनका कहना है कि मुझे उस दिन दीपक त्यागी उर्फ यति नरसिंहानंद सरस्वती के जरिए कही गई बातों से अवगत कराते हुए बेहद दुख हो रहा है। उसने पैगंबर हजरत मोहम्मद साहब के विरुद्ध अत्यंत वीभत्स, अश्लीलता से परिपूर्ण अपशब्दों का जानबूझ कर प्रयोग किया। साथ ही घृणात्मक तरीके से समस्त मुस्लिम समुदाय की भावनाओं को भड़काने एवं दंगे करवाने का पुरजोर साज़िश को अंजाम दिया है। दो समुदायों के बीच में इरादतन दुश्मनी पैदा करने की कोशिश की है। मुस्लिम समुदाय की धार्मिक भावनाओं को उनके धर्म को नीचा दिखाकर भड़काने का कार्य किया है। यह सभी बातें दिल्ली स्थित प्रेस क्लब में कही गई हैं। इसलिए दिल्ली पुलिस का कर्तव्य बनता है कि वह इस घटना के जिम्मेदार व्यक्ति के खिलाफ अपराधिक मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार करके जेल में डालने का काम करे। उन्होंने कहा कि यति नरसिंहानंद सरस्वती के इस बयान ने, दिल्ली में जो कि अभी पिछले साल हुए साम्प्रदायिक दंगों से पूरी तरह उबर भी नही पाई है, उसमें और घी डालने का काम किया है। इसी सिलसिले में मटिया महल विधानसभा क्षेत्र के विधायक शोएब इकबाल और दिल्ली गेट निगम वार्ड से पार्षद आले मोहम्मद इकबाल ने एक प्रतिनिधिमंडल के साथ दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल से मुलाकात करके उन्हें एक ज्ञापन सौंपा है। उन्होंने अपने ज्ञापन में यति नरसिंहानंद के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार किए जाने की मांग की है। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष अली मेहंदी के जरिए भी नई दिल्ली क्षेत्र के डीसीपी से मुलाकात करके उन्हें भी एक ज्ञापन देकर स्वामी के खिलाफ खिलाफ मुकदमा दर्ज करने और गिरफ्तार किए जाने की मांग की गई है। दिल्ली प्रदेश मजलिस मुस्लिम इत्तेहादुल मुस्लिमीन के अध्यक्ष तालीमुल हाफिज ने भी ओखला के थाना अध्यक्ष को पत्र भेजकर स्वामी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की है। हिन्दुस्थान समाचार/एम ओवैस