केंद्र के हस्तक्षेप के बाद दिल्ली में सुधरने लगे कोरोना के हालात : भाजपा
केंद्र के हस्तक्षेप के बाद दिल्ली में सुधरने लगे कोरोना के हालात : भाजपा
दिल्ली

केंद्र के हस्तक्षेप के बाद दिल्ली में सुधरने लगे कोरोना के हालात : भाजपा

news

नई दिल्ली, 12 जुलाई (हि.स.)। राजधानी दिल्ली में कोरोना के सुधरते हालात पर भाजपा ने सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) पर क्रेडिट लेने का आरोप लगाया है। भाजपा का कहना है कि आप सरकार ने कोरोना संकट के समय दिल्ली की स्वास्थ्य व्यवस्था को दुरुस्त करने की बजाए दिल्ली के लोगों को उनके हाल पर छोड़ दिया था। केंद्र सरकार के हस्तक्षेप के बाद राजधानी में कोरोना के हालत नियंत्रित होने लगे हैं, जिसके बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उनकी सरकार क्रेडिट लेने की होड़ में सबसे आगे नजर आने लगी है। दिल्ली भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने रविवार को कहा कि क्रेडिट चोरी और विज्ञापनों में दिखने का अगर कोई खिताब होता तो केजरीवाल उसके इकलौते हकदार होते। उन्होंने कहा कि दिल्ली में 24 मार्च से लेकर 14 जून तक न तो कोरोना टेस्टिंग ढंग से हो रही थी और न ही लोगों को समय पर बेड और इलाज मिल पा रहा था, जबकि केजरीवाल सरकार विज्ञापन के जरिए अपनी मार्केटिंग करने में लगी रही। उन्होंने कहा कि जब 14 जून के बाद केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने दिल्ली की स्वास्थ्य व्यवस्था को ठीक करने की कमान संभाली तो उसके बाद कहीं जाकर कोरोना के मामले में कमी आई है। केंद्र सरकार के हस्तक्षेप के बाद कोरोना टेस्टिंग रेट आधे किए गए, रैपिड एंटीजन टेस्टिंग की शुरुआत की गई। दिल्ली भाजपा अध्यक्ष गुप्ता ने कहा कि केजरीवाल ने कोरोना के समय जितनी मेहनत केंद्र सरकार के काम का क्रेडिट चुराने और अपनी मार्केटिंग करने में की, अगर उतनी दिल्ली की जनता को सुरक्षित रखने में करते तो दिल्ली में संक्रमण इतना नहीं बढ़ता। हिन्दुस्थान समाचार/वीरेन-hindusthansamachar.in