बिजली बिल को लेकर केजरीवाल सरकार के खिलाफ भाजपा का प्रदर्शन
बिजली बिल को लेकर केजरीवाल सरकार के खिलाफ भाजपा का प्रदर्शन
दिल्ली

बिजली बिल को लेकर केजरीवाल सरकार के खिलाफ भाजपा का प्रदर्शन

news

नई दिल्ली, 17 जुलाई (हि.स.)। राजधानी दिल्ली में बिजली बिलों में अनियमितता को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने केजरीवाल सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। दिल्ली भाजपा के प्रत्येक कार्यकर्ता शुक्रवार को दिल्ली में जगह-जगह 'बिजली जन आंदोलन' के तहत प्रदर्शन कर रहे हैं। मुख्य रूप से प्रदर्शन मालवीय नगर स्थित दिल्ली विद्युत नियामक आयोग (डीईआरसी) मुख्यालय के बाहर हो रहा है। यहां प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश कुमार गुप्ता बिजली बिलों में अनियमितता को लकेर दिल्ली सरकार के खिलाफ प्रर्दशन कर रहे हैं। प्रदर्शन में सांसद मीनाक्षी लेखी, नेता विपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी भी उपस्थित रहे। इस दौरान गुप्ता सहित कार्यकर्ताओं ने बिजली बिलों में लूट बंद करो, मनमाने फिक्स चार्ज बंद करो जैसे नारे लगाए। आदेश गुप्ता ने एक के बाद एक ट्वीट में कहा कि कोरोना काल में जहां दिल्लीवासी मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से आर्थिक रूप से राहत की गुहार लगा रहे थे वहीं दूसरी तरफ केजरीवाल सरकार बिजली कम्पनियों के साथ मिलकर जनता को फिक्स चार्ज के नाम पर लूटने का काम रही। केजरीवाल ने शुरू से ही जानता को सिर्फ धोखा दिया है। उन्होंने कहा कि भाजपा अब दिल्लीवासियों के साथ और अन्याय नहीं होने देगी। दिल्ली सरकार को अब वास्तविक बिल भेजने होंगे और बन्द दुकानों और ऑफिसों में फिक्स चार्ज के साथ भेजे गए बिल वापिस लेने होंगे। गुप्ता ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान ऑफिस और दुकाने बंद रहीं। ऐसे में बिजली की खपत लगभग 7409 मेगा वाट रही, लेकिन केजरीवाल सरकार 22,876 मेगा वाट के फिक्स्ड चार्ज के बिल भिजवा रही है। दिल्ली भाजपा इसका पूर्ण विरोध करती है और फिक्स चार्ज वापस लेने की मांग करती है। हिन्दुस्थान समाचार/ वीरेन्द्र-hindusthansamachar.in