आम आदमी पार्टी के नेता दिल्ली नगर निगम और पार्षदों पर लगाए गए आरोपों के लिए मांगें माफी : प्रकाश
आम आदमी पार्टी के नेता दिल्ली नगर निगम और पार्षदों पर लगाए गए आरोपों के लिए मांगें माफी : प्रकाश
दिल्ली

आम आदमी पार्टी के नेता दिल्ली नगर निगम और पार्षदों पर लगाए गए आरोपों के लिए मांगें माफी : प्रकाश

news

नई दिल्ली, 30 जुलाई (हि.स)। उत्तरी दिल्ली नगर निगम के महापौर जय प्रकाश, स्थायी समिति के अध्यक्ष छैल बिहारी गोस्वामी और नेता सदन योगेश कुमार वर्मा ने गुरुवार को संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया। इस दौरान तीनों नेताओं ने आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता राघव चड्ढा और विधायक आतिशी पर हमला बोलते हुए दिल्ली नगर निगम व निगम पार्षदों पर लगाए गए आरोपों के लिए माफी मांगने को कहा। महापौर जय प्रकाश ने कहा कि एक तरफ निगम दिल्ली में जलभराव की स्थिति के संबंध में बात कर रही है वहीं दूसरी तरफ आदमी पार्टी के नेता मुद्दों को भटकाने का कार्य कर रहे हैं। आप पार्टी के नेताओं ने जो भी आरोप लगाएं हैं वो उन्हें तथ्यों के साथ पेश करें अन्यथा दिल्ली नगर निगम पर लगाएं गए आरोपों के लिए माफी मांगें। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी का हमेशा से तरीका रहा है की पहले आरोप लगाओ और फिर भाग जाओ। उन्होंने बिना तथ्यों के आधार पर निगम पर आरोप लगाये हैं और इसका उदाहरण कल भी देखने को मिला जब दिल्ली उच्च न्यायालय ने दिल्ली सरकार को निर्देश दिया कि आप तुरंत 8 करोड़ रुपये उत्तरी दिल्ली नगर निगम को जारी करें ताकि निगम के डॉक्टरों को वेतन दिया जा सके। प्रकाश ने कहा कि दिल्ली सरकार सिर्फ यही कहती है कि हमने निगम को सारा पैसा दे दिया जबकि वर्ष 2018-19 में स्वास्थ्य, स्वच्छता और शिक्षा इन तीन विभागों में ही केवल वेतन पर 2421 करोड रुपये खर्च आया और केवल 1606 करोड़ रुपये दिल्ली सरकार ने हमें दिया था। वहीं इस वित्तीय वर्ष 2020-21 के प्रथम व द्वितीय तिमाही का लगभग 1180 करोड़ दिल्ली सरकार ने अभी तक निगम को नहीं दिया है। नेता सदन योगेश वर्मा ने कहा कि दिल्ली सरकार पूरी तरह से भ्रष्टाचार में लिप्त है। बिजली घोटाले में फिक्स्ड चार्ज के रूप में प्राईवेट कम्पनियों के साथ दिल्ली की जनता का शोषण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पीडब्ल्यूडी और दिल्ली जल बोर्ड ने करोड़ो का फंड खर्च करके अपने सारे नाले साफ करने का दावा किया था लेकिन जब पिछले दिनों बरसात के कारण पूरी दिल्ली जल मग्न हो गयी थी तब मुख्यमंत्री ने कहा था कि वे कोरोना के कारण नालों की सफाई का कोई काम नहीं कर पाये है। हिंदुस्थान समाचार/वीरेन-hindusthansamachar.in