सीटीडब्ल्यूए ने अनुबंधित शिक्षकों का अनुबंध नहीं बढ़ने को लेकर लिखा पत्र

सीटीडब्ल्यूए ने अनुबंधित शिक्षकों का अनुबंध नहीं बढ़ने को लेकर लिखा पत्र
सीटीडब्ल्यूए ने अनुबंधित शिक्षकों का अनुबंध नहीं बढ़ने को लेकर लिखा पत्र

नई दिल्ली, 25 जुलाई (हि.स.)। अनुबंधित शिक्षक कल्याण संघ (सीटीडब्ल्यूए) ने दिल्ली नगर निगमों के अनुबंधित शिक्षकों की समस्या को लेकर केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन को पत्र लिखा है। सीटीडब्ल्यूए ने कहा है कि निगम के अनुबंधित शिक्षकों का अनुबंध विस्तार नहीं किया गया है, जिससे वे बेरोजगार हो गए हैं। उनके सामने परिवार का पालन पोषण करने की समस्या उल्पन्न हो गई है। सीटीडब्ल्यूए ने पत्र के माध्यम से कहा कि दिल्ली की तीनों नगर निगम में अनुबंधित अध्यापक (सामान्य, उर्दू, पंजाबी, बंगाली, तमिल, नर्सरी, संगीत, कला, शारीरिक शिक्षा, स्पेशल एजुकेशन, काउंसलर) जो पिछले 19 वर्षों से निगम विद्यालय में सेवा करते आ रहे हैं उनका अनुबंध 08 मई को समाप्त हो गया है। अनुबंध समाप्त होने के बाद से वे बेरोजगार हैं। सीटीडब्ल्यूए ने कहा कि हमारा अनुबंध प्रति वर्ष एक जुलाई से विस्तार (कॉन्ट्रैक्ट रिन्यू) हो जाता था, लेकिन अबकी बार अभी तक नहीं हो पाया है। जबकि इस वर्ष अधिक कठिन समय चल रहा है और कोरोना महामारी एवं लॉकडाउन से अधिक प्रभावित हैं। सीटीडब्ल्यू ने कहा कि लॉकडाउन एवं महामारी काल में भी अनुबंधित शिक्षकों ने अपनी ड्यूटी बखूबी निभाया। फिर चाहे वह राशन वितरण हो या पका भोजन वितरण, हर जगह अपनी जिम्मेदारी निभाई। इसके साथ-साथ बच्चों को ऑनलाइन शिक्षा भी देते रहे हैं। अनुबंधित शिक्षक कल्याण संघ ने पत्र के माध्यम से निवेदन करते हुए कहा कि हमारी समस्याओं को संज्ञान में लेते हुए इस मुश्किल की घड़ी में हमारे अनुबंध का विस्तार करें। हमें पूर्ण विश्वास है कि हमारे अनुबंध को विस्तार करवाकर हमारे घर परिवार बर्बाद होने से बचा लेंगे। हमारे परिवार का पालन पोषण के लिए यह एकमात्र जरिया है। हिन्दुस्थान समाचार/ वीरेन्द्र-hindusthansamachar.in

अन्य खबरें

No stories found.