मुख्यमंत्री जवाब दें कि वायु प्रदूषण की रोकथाम के लिए क्या कदम उठाये : गुप्ता
मुख्यमंत्री जवाब दें कि वायु प्रदूषण की रोकथाम के लिए क्या कदम उठाये : गुप्ता
दिल्ली

मुख्यमंत्री जवाब दें कि वायु प्रदूषण की रोकथाम के लिए क्या कदम उठाये : गुप्ता

news

नई दिल्ली, 16 अक्टूबर (हि.स.)। पिछले आठ महीने तक राजधानी दिल्ली समेत एनसीआर में वायु प्रदूषण कम रहने के बाद एक बार फिर से अक्टूबर माह में बढ़ने लगा है। जैसै जैसे दिल्ली में प्रदूषण बढ़ना शुरू हुआ है, वैसे वैसे राजनीतिक दलों के बीच एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप भी शुरू हो चुके हैं। दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने तंज कसते हुए कहा कि क्या अरविंद केजरीवाल मुख्यमंत्री सिर्फ प्रचार करने के लिए बने हैं, वह मुख्यमंत्री हैं या प्रचार मंत्री हैं? उन्होंने मुख्यमंत्री से सवाल पूछा कि दिल्ली में प्रदूषण को कम करने के लिए आज तक आपने क्या कदम उठाए हैं और उसे जमीन पर कितना लागू करवाया है ? इस सबका हिसाब दें। आदेश गुप्ता ने शुक्रवार को भाजपा प्रदेश कार्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता ने कहा कि हर साल अक्टूबर शुरू होते ही प्रदूषण की समस्या दिल्लीवासियों के लिए परेशानी का सबब बन जाती है और हर साल मुख्यमंत्री प्रदूषण से निपटने के लिए नई-नई घोषणाएं भी लेकर आते हैं, लेकिन सालों से हालात जस के तस हैं। हालांकि आजकल मुख्यमंत्री केजरीवाल और उनके मंत्री ग्रीन वॉर रूम में एक नक्शे पर गोला बनाते हैं और फोटो सेशन करवाते हैं। इसके साथ दावा करते हैं कि इससे प्रदूषण की समस्या समाप्त हो जाएगी। उन्होंने कहा कि क्रियान्वयन का 90 प्रतिशत का नगर निगम द्वारा किया जा रहा है और निगम का 90 प्रतिशत फंड दिल्ली सरकार के पास है जो वह देना नहीं चाहते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा सांसद गौतम गंभीर ने स्वयं सड़कों पर उतर कर प्रदूषण की रोकथाम के लिए लाजपत नगर में 20 फीट का स्मॉग टावर लगवाया, कूड़े-कचरे को अलग करने के 12 ट्रॉमिल मशीन, कंपोस्ट मशीनें लगवाईं। बड़ी संख्या में एयर प्यूरीफायर और स्प्रिंकलर लगाने की दिशा में भी काम चल रहा है। वहीं दूसरी तरफ मुख्यमंत्री और उनके सरकार के मंत्री कमरों में बैठकर पत्रकार वार्ता करतें हैं। दिल्ली में प्रदूषण में पराली की भूमिका 5 प्रतिशत है और 95 प्रतिशत मुख्य कारण दिल्ली के अंदर ही है। यह दिल्ली सरकार की जिम्मेदारी है कि उन कारकों का पता लगाएं और प्रदूषण बढ़ने से रोकें। जिस तरह कोरोना संकट के समय भाजपा कार्यकर्ताओं ने आगे बढ़कर काम किया था वैसे ही प्रदूषण की रोकथाम के लिए जागरुकता अभियान चलाएंगे। उत्तरी दिल्ली नगर निगम के महापौर जय प्रकाश ने कहा कि वायु प्रदूषण गंभीर समस्या है जिससे निपटने के लिए नगर निगम पूरी प्रतिबद्धता के साथ काम कर रही है। पूर्वी दिल्ली नगर निगम के महापौर निर्मल जैन ने बताया कि 40 वॉटर स्प्रिंकलर डस्ट सप्रेसेंट 10 मैकेनिकल स्वीपर, 4 ऑटोमाउंट लीटर पिकर, सक्शन कम जैटिंग मशीन, 5 एंटी स्मॉग गन और 12 मिनी जैटिंग मशीन के जरिए वायु प्रदूषण को रोकने के लिए युद्ध स्तर पर कार्य पूर्वी दिल्ली नगर निगम द्वारा चलाया जा रहा है। वहीं दक्षिणी दिल्ली नगर निगम महापौर अनामिका मिथलेश ने बताया कि 104 वार्डों में नाइट पेट्रोलिंग टीम को लगाया गया है। 24 मैकेनिकल स्वीपिंग मशीन के जरिए 700 किलोमीटर सड़क की प्रतिदिन सफाई हो रही है। हिन्दुस्था समाचार/वीरेन-hindusthansamachar.in