पुलिस के आरोप पत्र से साबित हुआ सुनियोजित थे दिल्ली के सांप्रदायिक दंगे : तिवारी
पुलिस के आरोप पत्र से साबित हुआ सुनियोजित थे दिल्ली के सांप्रदायिक दंगे : तिवारी
दिल्ली

पुलिस के आरोप पत्र से साबित हुआ सुनियोजित थे दिल्ली के सांप्रदायिक दंगे : तिवारी

news

नई दिल्ली, 22 सितम्बर (हि.स.)। भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष एवं उत्तर पूर्वी दिल्ली के सांसद मनोज तिवारी ने मंगलवार को कहा कि दिल्ली के सांप्रदायिक दंगों पर पुलिस द्वारा कोर्ट में दायर आरोपपत्र से यह साबित हो गया है कि विगत दिनों फरवरी माह में दिल्ली में हुए सांप्रदायिक दंगे एक सोची समझी साजिश का हिस्सा था। इन दंगों की तैयारी काफी पहले से की जा रही थी। उन्होंने कहा कि दंगों के दौरान राष्ट्रवाद और हिंदू मुस्लिम के बीच कायम सांप्रदायिक सौहार्द को छिन्न-भिन्न करने के लिए हर हथकंडे का इस्तेमाल किया गया। सांसद तिवारी ने कहा कि जिस तरह नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के मामले में एक फर्जी कहानी गढ़ी गई, उसके पीछे साफ मकसद नजर आ रहा है उनकी मंशा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता को नुकसान पहुंचाना और देश की विकास गति को पटरी से उतारना था। सांसद ने कहा कि ऐसे दल एक बार फिर नफरत का जहर फैलाकर दिल्ली और देश की जनता को गुमराह करना चाहते हैं। इससे हम सबको सावधान रहना चाहिए। हमें यकीन है कि दिल्ली के दंगे के दोषियों को न्यायिक प्रक्रिया के बाद कठोर दंड मिलेगा। हिन्दुस्थान समाचार/वीरेन-hindusthansamachar.in