निर्भया कांड के दोषियों की गरफ्तारी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले एसीपी राजेन्द्र सिंह हुए सेवानिवृत्त
निर्भया कांड के दोषियों की गरफ्तारी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले एसीपी राजेन्द्र सिंह हुए सेवानिवृत्त
दिल्ली

निर्भया कांड के दोषियों की गरफ्तारी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले एसीपी राजेन्द्र सिंह हुए सेवानिवृत्त

news

नई दिल्ली, 30 अक्टूबर (हि.स.)। निर्भया कांड में गिरफ्तारी से लेकर आरोपपत्र तैयार करने में बड़ी भूमिका निभाने वाले एसीपी राजेन्द्र सिंह सेवानिवृत्त हो गए हैं। निर्भया मामले के अलावा सुपर बंटी चोर को पकड़ने एवं दिल्ली के कई बड़े गैंग को जेल की सलाखों के पीछे पहुंचाने में उनकी अहम भूमिका रही है। इसी वजह से उन्हें दिल्ली पुलिस का सुपर कॉप भी कहा जाता है। दो फिल्म में उनके किरदार भी निभाये गए हैं। इनमें से एक फ़िल्म ओए लक्की लक्की ओए और दूसरी निर्भयाकांड को लेकर बनाई गई क्राइम सीरीज 'दिल्ली क्राइम' शामिल है। राजेन्द्र सिंह मार्च 1986 में बतौर सब इंस्पेक्टर दिल्ली पुलिस में भर्ती हुए थे। अपने करियर की शुरुआत से ही बदमाशों की धरपकड़ करने में उनकी दिलचस्पी थी। उनके बेहतरीन काम के चलते उन्हें लंबे समय तक दक्षिण जिले में इंस्पेक्टर स्पेशल स्टॉफ लगाया गया था। स्पेशल स्टॉफ इंचार्ज रहते हुए उन्होंने कुख्यात बंटी चोर को दो बार गिरफ्तार किया। इस पर बाद में फ़िल्म भी बनी जिसमें बंटी का किरदार अभय देवल और राजेंद्र सिंह का किरदार स्पेशल स्टॉफ के इंस्पेक्टर देवेंद्र बनकर कलाकार द्वारा निभाया गया था। लंबे समय तक स्पेशल स्टाफ में रहने वाले इंस्पेक्टर राजेन्द्र सिंह को थाने की पुलिसिंग से ज्यादा बदमाशों की धरपकड़ पसंद थी। उन्होंने दो थाने लोधी कॉलोनी और साकेत एसएचओ का पद भी संभाला। इस पोस्टिंग में भी वह बदमाशों एवं गैंग की गिरफ्तारी पर ज्यादा नजर बनाये हुए थे। इसके बाद उन्होंने दक्षिण जिले के स्पेशल टास्क फोर्स के इंस्पेक्टर का पद संभाला। कुछ समय बाद निर्भया कांड हुआ जिसमें आरोपितों की गिरफ्तारी से लेकर आरोपपत्र तैयार करने में उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। यहीं पर उन्हें पदोन्नति मिली और वह एसीपी ऑपेरशन बन गए। द्वारका जिले में वर्ष 2017 में एसीपी के रूप में पदस्थ हुए। यहां उन्हें द्वारका सब डिवीजन की जिम्मेदारी मिली। हाल ही में उन्होंने महिलाओं के साथ अश्लीलता करने वाले अपने ही महकमे के सब इंस्पेक्टर को गिरफ्तार भी किया। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी-hindusthansamachar.in