दिल्ली की जनता ने देख लिया केजरीवाल का शिक्षा मॉडल, दावे बड़े काम छोटे: आदेश गुप्ता
दिल्ली की जनता ने देख लिया केजरीवाल का शिक्षा मॉडल, दावे बड़े काम छोटे: आदेश गुप्ता
दिल्ली

दिल्ली की जनता ने देख लिया केजरीवाल का शिक्षा मॉडल, दावे बड़े काम छोटे: आदेश गुप्ता

news

नई दिल्ली, 2 अगस्त (हि.स)। दिल्ली सरकार अनुमोदिन 12 कॉलेजों को पूरी ग्रांट रिलीज नहीं की गई है। इस वजह से अब हालत यह हो गई है कि ग्रांट नहीं मिलने से दीन दयाल उपाध्याय कॉलेज के फोन काट दिए गए हैं। इस पर दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने केजरीवाल सरकार को आइना देखते हुए कहा है कि दिल्ली की जनता ने भी देख लिया है कि केजरीवाल सरकार का शिक्षा मॉडल कैसा है ? केजरीवाल सरकार सिर्फ दिखावे की सरकार है। केजरीवाल सरकार के दावे बड़े- बड़े होते हैं, लेकिन काम बहुत छोटे हैं। दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष गुप्ता ने दिल्ली विश्वविद्यालय से संबद्ध और दिल्ली सरकार से अनुमोदित 12 कॉलेज की ग्रांट केजरीवाल सरकार ने अभी तक जारी नहीं की है, जिस वजह से कॉलेजों के सेवाएं भी प्रभावित हो रही हैं। इन कॉलेजों में काम करने वाले 3000 से ज्यादा स्टाफ को कई महीनों से सैलरी तक नहीं मिली है। उन्होंने बताया कि ग्रांट नहीं मिलने से दीन दयाल उपाध्याय कॉलेज का फोन कनेक्शन काट दिया गया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार डीडीयू कॉलेज पर बिजली बिल के रूप में भी लाखों रुपए बकाया है और बिजली कनेक्शन काटने की बार-बार धमकी दी जा रही है। उन्होंने कहा कि ग्रांट की मांग को लेकर कॉलेजों के स्टाफ विधानसभा के बाहर प्रदर्शन भी कर चुके हैं, लेकिन केजरीवाल सरकार की कान पर जूं तक नहीं रेंग रही है। जबकि आधे से ज्यादा स्कूलों में पर्याप्त संख्या में टीचर तक नहीं हैं। हिंदुस्थान समाचार/वीरेन-hindusthansamachar.in