जनरल ट्रेड लाइसेंस एवं फैक्ट्री लाइसेंस विभाग के अधिकारियों के साथ नेता सदन ने की बैठक
जनरल ट्रेड लाइसेंस एवं फैक्ट्री लाइसेंस विभाग के अधिकारियों के साथ नेता सदन ने की बैठक
दिल्ली

जनरल ट्रेड लाइसेंस एवं फैक्ट्री लाइसेंस विभाग के अधिकारियों के साथ नेता सदन ने की बैठक

news

नई दिल्ली, 07 सितम्बर (हि.स.)। उत्तरी दिल्ली नगर निगम के नेता सदन योगेश कुमार वर्मा ने सोमवार को सिविक सेंटर स्थित अपने कार्यालय में निगम के राजस्व बढ़ाने के संदर्भ में जनरल ट्रेड लाइसेंस एवं फैक्टरी लाइसेंस विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में चर्चा के दौरान बात सामने आयी कि काफी कम संख्या में लोग नये लाइसेंस लेने के लिए आवेदन कर रहे हैं और पुराने लाइसेंस का रिन्युअल भी काफी कम संख्या में हो रहा है। फैक्टरी एसोसिएशनों की भी हमेशा यही शिकायत रहती है कि निगम से हमारे लाइसेंस नहीं बन रहे हैं जिस पर नेता सदन ने चिंता जतायी। वर्मा ने बताया कि बैठक में हमने फैक्टरी लाइसेंस विभाग को निर्देश दिये हैं कि निगम के प्रत्येक वार्ड में आगामी 14 सितम्बर से ऑनलाइन नये लाइसेंस जारी करने और पुराने लाइसेंस रिन्यूअल करने के लिए कैम्प लगवाए जाएं, जिसमें फैक्टरी लाइसेंस विभाग का एक इन्सपेक्टर व एक कम्प्यूटर ऑपरेटर के साथ सम्बन्धित वार्ड के पार्षद की भी सहभागिता होगी। उन्होंने कहा कि विभाग को कैम्प लगाने से पूर्व सम्बन्धित क्षेत्रीय पार्षद एवं फैक्टरी एसोसिएशनों को भी जानकारी देनी होगी और एसोसिएशनों के माध्यम से ही विभाग के इन्सपेक्टर को कम्प्यूटर व स्कैनर आदि उपलब्ध कराया जाएगा। वर्मा ने बताया कि उत्तरी दिल्ली निगम के अधीन काफी संख्या में औद्योगिक इकाइयां हैं जो अपना लाइसेंस बनवाना चाहती हैं। हमारा प्रयास है कि कैम्पों के माध्यम से ज्यादा से ज्यादा संख्या में लोग निगम से अपना लाइसेंस जारी करायें, जिससे निगम के राजस्व में भी बढ़ोतरी होगी और औद्योगिक इकाईयों को भी निगम से लाइसेंस जारी करवाने में सहूलियत होगी। हिन्दुस्थान समाचार/ वीरेन्द्र-hindusthansamachar.in