एमसीडी कर्मचारियों की सैलरी मामले पर आप नेता दुर्गेश पाठक ने भाजपा पर बोला हमला
एमसीडी कर्मचारियों की सैलरी मामले पर आप नेता दुर्गेश पाठक ने भाजपा पर बोला हमला
दिल्ली

एमसीडी कर्मचारियों की सैलरी मामले पर आप नेता दुर्गेश पाठक ने भाजपा पर बोला हमला

news

नई दिल्ली, 15 अक्टूबर (हि.स.)। आम आदमी पार्टी के नेता दुर्गेश पाठक ने दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) कर्मचारियों की सैलरी मामले को लेकर भाजपा पर हमला बोला है। उन्होंने सैलरी भुगतान नहीं हो पाने के लिए एमसीडी की सत्ता में बैठी भाजपा को जिम्मेदार बताया। दुर्गेश पाठक ने गुरुवार को पत्रकार वार्ता में आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा और एमसीडी ने पिछले 14 सालों में दिल्ली को बर्बाद कर दिया है। भाजपा को एमसीडी की सत्ता में बने रहने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है, क्योंकि पिछले कई महीनों से अपने कर्मचारियों को तनख्वाह देने में वह असमर्थ हैं। पाठक ने आरोप लगाया कि एमसीडी का बजट 18,000 करोड़ रुपये से अधिक का है, लेकिन इस पैसे का इस्तेमाल भ्रष्टाचार करने में किया जाता है। भाजपा नेताओं ने एमसीडी को इतने बुरे तरीके से लूटा है कि आज यह अपने कर्मचारियों को लगभग छह महीनों से वेतन नहीं दे पा रहे हैं। शिक्षक, डॉक्टर, इंजीनियर समेत निचले स्तर के कर्मचारियों से लेकर अधिकारियों तक को वेतन नहीं मिल पा रहा है। भाजपा ने एमसीडी का बुरा हाल कर रखा है। उन्होंने कहा कि दिल्ली के लोगों ने आगामी चुनाव में एमसीडी की सत्ता से भाजपा को बाहर करने का फैसला कर लिया है। उन्होंने आगे कहा कि मैं भाजपा के नेताओं से कहना चाहता हूं कि जब दिल्ली सरकार को ही सब कुछ चलाना है, हर चीज के लिए दिल्ली सरकार जिम्मेदार है तो आप एमसीडी को छोड़ दें। दिल्ली सरकार अच्छे तरीके से एमसीडी को चलाकर दिखाएगी। 18 हजार करोड़ रुपये एमसीडी का बजट है लेकिन समझ नहीं आ रहा कि यह पैसा कहां जा रहा है। भाजपा कर्मचारियों और डॉक्टरों का वेतन नहीं दे पा रही है। कोरोना के मरीजों को एमसीडी के अस्पतालों से दूसरे अस्पतालों में स्थानांतरित करना पड़ रहा है। हिन्दुस्थान समाचार /प्रतीक खरे-hindusthansamachar.in