यूएपीए का प्रावधान राजद्रोह से भी ज्यादा खतरनाक : उच्चतम न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधीश लोकुर

यूएपीए का प्रावधान राजद्रोह से भी ज्यादा खतरनाक : उच्चतम न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधीश लोकुर
uapa-provision-more-dangerous-than-sedition-retired-supreme-court-judge-lokur

नयी दिल्ली, 21 मई (भाषा) उच्चतम न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश एम. बी. लोकुर ने शनिवार को कहा कि राजद्रोह पर शीर्ष अदालत का 11 मई का आदेश ‘‘महत्वपूर्ण’’ है। वहीं, उन्होंने गैरकानूनी गतिविधियां रोकथाम कानून (यूएपीए) के एक प्रावधान के दुरुपयोग पर चिंता जताते हुए कहा कि यह ‘‘खराब से क्लिक »-www.ibc24.in

अन्य खबरें

No stories found.