हिंदी दिवस: अंग्रेजी की जंजीरों को तोड़कर क्यों न हिंदी में किया जाए हस्ताक्षर की शुरूआत

हिंदी दिवस: अंग्रेजी की जंजीरों को तोड़कर क्यों न हिंदी में किया जाए हस्ताक्षर की शुरूआत
हिंदी-दिवस-अंग्रेजी-की-जंजीरों-को-तोड़कर-क्यों-न-हिंदी-में-किया-जाए-हस्ताक्षर-की-शुरूआत

देश में आज हिंदी दिवस मनाया जा रहा है। मातृभाषा हिंदी को 14 सितंबर 1949 को राजभाषा का दर्जा दिया गया और 1953 से हर साल 14 सिंतबर को हिंदी दिवस मनाया जा रहा है। हिंदी दिवस मानने का मुख्य उद्देश्य यथोचित मातृभाषा के शब्द को सम्मान दिलाने काफी अहम क्लिक »-www.ibc24.in

अन्य खबरें

No stories found.