काम से मिलती है वास्तविक  पहचान : सुप्रिया पाठक
काम-से-मिलती-है-वास्तविक-पहचान-सुप्रिया-पाठक

काम से मिलती है वास्तविक पहचान : सुप्रिया पाठक

(कोमल पंचमटिया) मुंबई, 11 अक्टूबर (भाषा) दिग्गज अभिनेत्री सुप्रिया पाठक का कहना है कि वह आज भी अपने करियर को लेकर बहुत अधिक महत्वाकांक्षी नहीं हैं और फिल्मों में केवल उन किरदारों को निभाने में विश्वास करती हैं जो उन्हें खुशी देते हैं। मां दीना पाठक, बहन रत्ना पाठक शाह, क्लिक »-www.ibc24.in

Related Stories

No stories found.