गया मनरेगा योजना में सर्वाधिक रोजगार उपलब्ध कराने में अव्वल

गया मनरेगा योजना में सर्वाधिक रोजगार उपलब्ध कराने में अव्वल
topped-in-providing-maximum-employment-under-gaya-mnrega-scheme

गय, 11 जून (हि.स.)। कोरोना संक्रमण काल में बिहार का गया जिला महात्मा गांधी नरेगा अन्तर्गत कुल 332 ग्राम पंचायत में से 331 में जॉबकार्डधारी श्रमिकों को 88,320 प्रतिदिन कार्य मुहैया करा रहा रहा हैं, जो पूरे राज्य में सर्वाधिक हैं। जिलाधिकारी अभिषेक सिंह ने मनरेगा योजना में गया जिला को अव्वल स्थान प्राप्त होने पर सभी संबंधित पदाधिकारी, कर्मियों एवं गया जिला वासियों को बधाई देते हुए कहा है कि इसी प्रकार लगन एवं पूरे परिश्रम से कार्य करें ताकि इस कोरोना काल में श्रमिकों को भरपूर रोजगार प्राप्त हो सके। बेहतर उपलब्धि वालें प्रदेश के पांच जिले 1.गया - 88320 2.दरभंगा - 81341 3.औरंगाबाद-66563 4.पूर्वी चंपारण -66520 5. मुजफ्फपुर -64663 गया जिला अन्तर्गत कुल 9,114 योजनाओ में कार्य चल रहें हैं।जिसमें कच्चा कार्य जल जीवन हरियाली तहत आहर, तालाब, पोखर ,पईन, चेक डैम,नयें जल स्रोत, आहर रिचार्ज बोर, पौधारोपण, निजी क्षेत्र क़ी योजनाएं शामिल हैं।पौधारोपण अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2021-22 में प्रति ग्राम पंचायत 3200 पौधें लगाने क़ा लक्ष्य निर्धारित किया गया हैं। इस वर्ष कुल 11 लाख पौधारोपण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है, जो 15 जून से 09 अगस्त 2021 तक कुल 2756 योजनाओ को पूर्ण क़र लिया जाना हैं प्रत्येक कार्यस्थल कों चिन्हित क़र गड्ढ़ा एवं उसकी तैयारी की जा रहीं हैं। जिसमें 65000 पीपल के पौधें लगाएं जाएंगे। पौधारोपण कार्य मे सभी जॉब कार्ड धारी पूरे मन से जुटे हैं जिससे इन्हें भरपूर रोजगार प्राप्त हो रहा है। प्रखण्ड वार रोजगार मुहैया कराने में जिले में बाराचट्टी-8791 (2) कोंच-8587(3) डुमरिया- 7267 (4) मोहनपुर - 6669 (5) खिजरसराय - 5998 घोषित किए गए हैं। हिन्दुस्थान समाचार/पंकज