गरीबों, पिछड़ों, दलित और अल्पसंख्यकों के हितैषी थे रघुवंश बाबूः डॉ. एमएम झा
गरीबों, पिछड़ों, दलित और अल्पसंख्यकों के हितैषी थे रघुवंश बाबूः डॉ. एमएम झा
बिहार

गरीबों, पिछड़ों, दलित और अल्पसंख्यकों के हितैषी थे रघुवंश बाबूः डॉ. एमएम झा

news

औरंगाबाद के महादेवा गांव में किया गया उनका अंतिम संस्कार औरंगाबाद के नबीनगर विस क्षेत्र से लगातार तीन बार विधायक रहे थे रघुवंश प्रसाद सिंह सदानंद सिंह, निखिल कुमार, एचके वर्मा सहित कांग्रेसओं नेता ने जताया शोक पटना 24 जुलाई (हि.स.)। औरंगाबाद जिला के नबीनगर विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस पार्टी के टिकट पर 1980 से 1995 तक लगातार तीन बार विधायक रहे रघुवंश प्रसाद सिंह का निधन 23 जुलाई को शाम सात बजे उनके औरंगाबाद स्थित आवास पर हो गया। निधन का समाचार मिलते ही कांग्रेस पार्टी में शोक की लहर छा गयी। प्रदेश कांग्रेस के मीडिया विभाग के अध्यक्ष एचके वर्मा ने बताया कि एचके वर्मा ने बताया कि उनका अन्तिम संस्कार शुक्रवार को उनके गांव महदेवा में रीति रिवाज के साथ सम्पन्न हुआ। बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष डॉ. मदन मोहन झा ने कहा कि रघुवंश बाबू औरंगाबाद के लोकप्रिय नेता थे। वे गरीबों, पिछड़ों, दलित और अल्पसंख्यक समुदाय के हितों का बड़ा ख्याल रखते थे। उन्होंने कहा कि रघुवंश बाबू मेरे साथ 1985 से 1995 तक विधायक रहे। डॉ. झा ने कहा कि उनके निधन से मगध क्षेत्र में कांग्रेस की अपूर्णीय क्षति हुई है। विधान मण्डल में कांग्रेस दल के नेता सदानन्द सिंह ने कहा कि रघुवंश बाबू तीन बार लगातार नबीनगर से भारी मतों से विजयी होते रहे। उन्होंने अपने क्षेत्र में विकास के कई कार्यक्रम चलाये। पूर्व राज्यपाल निखिल कुमार ने कहा कि रघुवंश बाबू से उनका पारिवारिक सम्बन्ध रहा है। उन्होंने कहा कि रघुबंश बाबू मृदुभाषी एवं गरीबों के हितैषी नेता थे। विधायक राजेश कुमार, प्रदेश कांग्रेस के मीडिया विभाग के अध्यक्ष एचके वर्मा, प्रवक्ता डॉ. हरखू झा, राजेश राठौड़ एवं पूर्व विधान पार्षद लालबाबू लाल ने भी रघुवंश बाबू के निधन पर गहरी संवेदना व्यक्त की है। हिन्दुस्थान समाचार/राजीव/विभाकर-hindusthansamachar.in