Police headquarters came into action after the Chief Minister's rebuke
Police headquarters came into action after the Chief Minister's rebuke
बिहार

मुख्यमंत्री की फटकार के बाद हरकत में आया पुलिस मुख्यालय

news

पुलिस मुख्यालय के डीजी सेल से हटाए गए 23 पुलिस अधिकार पटना, 09 जनवरी (हि.स.) । बिहार में गिरती कानून-व्यवस्था को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की फटकार के बाद बिहार के पुलिस महानिदेशक एसके सिंघल अब एक्शन में आ गए हैं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को डीजीपी सिंघल को तलब कर पुलिसिंग को दुरुस्त करने के लिए कई निर्देश दिये थे। मुख्यमंत्री के साथ बैठक के बाद डीजीपी एसके सिंघल ने अपने डीजी सेल में पिछले कई वर्षों से जमे कुल 23 पुलिसकर्मियों को हटा दिया है। इसमें कई डीएसपी, इंस्पेक्टर, दारोगा स्तर के पुलिस अधिकारी शामिल हैं। इन सभी पुलिस कर्मियों को वापस उनके जिले में योगदान करने का निर्देश दिया गया है। बिहार में बैंक लूट, आभूषण दुकानों के कारोबारियों से लूट, हत्या और गैंगरेप की घटनाएं रोज हो रही हैं। जिससे विपक्ष बिहार के सुशासन की सरकार पर सवाल उठा रहा है। ऐसे में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अधिकारियों को क्राइम कंट्रोल करने को लेकर कई तरह के निर्देश दे रहे हैं। इसे लेकर वह पुलिस मुख्यालय में दो बार अधिकारियों के साथ बैठक कर चुके हैं और चेतावनी दे चुके हैं। 23 दिसंबर को सीएम नीतीश कुमार ने दो टूक शब्दों में कह दिया था कि या तो क्राइम कंट्रोल करिए या फिर पुलिस के महत्वपूर्ण पदों को छोड़ दीजिए। मुख्यमंत्री ने लगभग ढाई घंटे तक पटेल भवन में वक्त बिताया। उन्होंने अधिकारियों को कहा था कि हमने पुलिसिंग को मुस्तैद बनाने के लिए हर संभव कोशिश की है। राज्य सरकार स्मार्ट पुलिसिंग के लिए पैसों की कोई कमी नहीं होने दे रही है। पुलिस को सुविधाएं मुहैया कराई गई हैं, लेकिन इसके बावजूद अगर रिजल्ट नहीं मिलता और बिहार में कानून-व्यवस्था ठीक नहीं होती है तो ऐसी स्थिति में उनके पास कोई विकल्प नहीं रह जाता है। मुख्यमंत्री ने साफ कर दिया है कि अब वह किसी को बख्शने के मूड में नहीं हैं। अपराधियों के ऊपर हर हालत में लगाम लगानी होगी। हिन्दुस्थान समाचार/राजीव रंजन/चंदा-hindusthansamachar.in