people-of-border-area-are-going-to-nepal-to-get-cheap-diesel-and-petrol
people-of-border-area-are-going-to-nepal-to-get-cheap-diesel-and-petrol
बिहार

सस्ता डीजल व पेट्रोल लेने सीमा इलाके के लोग जा रहे नेपाल

news

निर्मली,18 फरवरी (हि. स.)। भारत से नेपाल में 19 रुपया पेट्रोल और 22 रुपया डीजल प्रति लीटर सस्ता होने का असर हैं कि सीमावर्ती इलाके के लोग पड़ोसी देश नेपाल जा रहे हैं। नेपाल की सीमा से लगने वाले जिले के बॉर्डर इलाके के लोगों ने नेपाल से तेल खरीदना शुरू कर दिया है। इतना ही नहीं नेपाल से पेट्रोल-डीजल की तस्करी भी जोरों पर है। ऐसा तब है जब खुद नेपाल अपनी ज़रूरत का पेट्रोल-डीजल भारत से ही खरीदता है। नेपाल में भारत के मुकाबले डीजल 22 रुपया और पेट्रोल लगभग 19 रुपए प्रतिलीटर सस्ता है। जबकि नेपाल में बिक रहा सस्ता तेल भारत से ही जाता है। इसकी सीधी वजह ये है कि नेपाल सरकार अपने नागरिकों से पेट्रोल-डीज़ल पर उतना भारी भरकम टैक्स नहीं वसूल करती, जितना भारत की सरकार करती है। दरअसल नेपाल के साथ भारत के समझौते के तहत इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन ही नेपाल के लिए खाड़ी देशों से ईंधन मंगाता है। इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन नेपाल को ईंधन सप्लाई खरीद मूल्य पर ही करता है। नेपाल से केवल रिफाइनरी और परिवहन शुल्क लिया जाता है। कोरोना महामारी के कारण नेपाल की सीमा पर पाबंदी अभी नहीं खुली है। सख्ती के बावजूद ग्राहक किसी तरह बच-बचाकर पेट्रोल लेने नेपाल पहुंच ही जा रहे हैं। हालात यह है कि सुपौल जिले से लगी नेपाल के सप्तरी जिले की सीमा पर होकर पगडंडियों के सहारे पेट्रोल भारतीय भाग में लाते हैं।इस दौरान पुलिस और एसएसबी जवानों की चौकसी से बचते हुए बॉर्डर इलाके के लोग धड़ल्ले से तेल का खेल कर रहे हैं। यहां के लोग पेट्रोल लाकर सस्ते में छोटे दुकानदारों को बेच देते है और यहां के बाइक चालक भी पेट्रोल पंप से सस्ता पेट्रोल देख छोटे दुकानदारों से ही पेट्रोल खरीदते हैं। एसएसबी के मुताबिक डीजल-पेट्रोल की तस्करी की सूचना मिलने के बाद सीमाई इलाकों में सतर्कता बढ़ा दिया गया हैं।इंडो -नेपाल के कुनौली सीमा काफी अलर्ट पर है। मगर खुली सीमा क्षेत्र में 10 से ज्यादा ऐसी जगहें हैं, जहां पगडंडियों के सहारे सीमा इलाके के लोग आसानी से नेपाल जा कर डीजल, पेट्रोल को कनस्तर में भरकर लाते हैं और स्थानीय बाजारों में इसे बेचते हैं। सीमा शुल्क कार्यलय के अधीक्षक के के शरण ने कहा कि डीजल और पेट्रोल की तस्करी करना ,देश विरोधी कार्य हैं।ऐसे लोगो के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई किया जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार /सुनील/चंदा-hindusthansamachar.in