pedestrians-of-begusarai-join-dandi-yatra-amrit-mahotsav-of-independence
pedestrians-of-begusarai-join-dandi-yatra-amrit-mahotsav-of-independence
बिहार

आजादी के अमृत महोत्सव दांडी यात्रा में शामिल हुए बेगूसराय के पदयात्री

news

बेगूसराय, 03 अप्रैल (हि.स.)। आजादी के 75वीं वर्षगांठ पर मनाये जा रहे 'आजादी का अमृत महोत्सव' में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा रवाना किए गए दांडी यात्रा में बिहार के दांडी गढ़पुरा से नमक सत्याग्रह गौरव यात्रा समिति का जत्था शामिल हो गया है। डेलाड गांव के गांधी विश्राम स्थल से यह टोली प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के द्वारा 12 मार्च को साबरमती से रवाना किये गये जत्थे के साथ दांडी यात्रा में शामिल हुआ है। समिति के प्रधान सचिव मुकेश विक्रम ने बताया कि देश की आजादी के 75वीं वर्षगांठ पर देशभर में अगले 75 सप्ताह तक मनाये जा रहे 'आजादी का अमृत महोत्सव' कार्यक्रम के प्रथम चरण का शुभारंभ बापू के दांडी मार्च के शुरूआत के दिन 12 मार्च को अहमदाबाद के ऐतिहासिक साबरमती आश्रम से दांडी यात्रा की शुरुआत के साथ हुआ। सविनय अवज्ञा आंदोलन के अंतर्गत आयोजित नमक सत्याग्रह आंदोलन ने सूर्यास्त नहीं होने वाली सत्ता के साम्राज्य को सदा के लिये अस्ताचल में पहुंचाने में सर्वाधिक महत्वपूर्ण भूमिका निभाया था। शनिवार को पदयात्रा सूरत जिले के वांज गांव से चलकर नवसारी जिले में प्रवेश कर गया है और रात्रि विश्राम भी नवसारी में निर्धारित है। दांडी का ऐतिहासिक नमक सत्याग्रह स्थल भी नवसारी जिले के अंतर्गत ही आता है। मुकेश विक्रम यादव ने बताया कि समिति के संस्थापक सह राष्ट्रीय महासचिव राजीव कुमार के नेतृत्व में बिहार के दांडी से पहुंचा तथा अपने विशेष रथ के साथ दांडी पथ पर एक अलग पहचान बिखेर रहा है। पदयात्रा में शामिल लोग और रास्ते में उमड़ने वाली भीड़ को यह इकलौता रथ विशेष रूप से आकर्षित करता है। देश के किसी भी अन्य राज्य से पहुंचा पदयात्रियों का यह इकलौता जत्था है। सह संयोजक रामसेवक स्वामी यादव ने बताया कि चार वर्षों में हम दूसरी बार दांडी यात्रा पर हैं और यहां से प्रेरणा हासिल करने हम सबको जीवन में यहां एकबार अवश्य आना चाहिए। सचिव संजीव पोद्दार ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश दांडी मार्च से प्रेरणा लेकर आत्मनिर्भरता की ओर और मजबूती से कदम बढ़ायेगा। रामचंद्र महतों एवं योगेंद्र महतों ने कहा कि आनेवाली पीढियां बापू से प्रेरणा लेकर प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में देश को नित नई ऊंचाइयों पर ले जाने का काम करेगा और भारत फिर से विश्वगुरू कहलायेगा। हिन्दुस्थान समाचार/सुरेन्द्र/चंदा