Order of clarification against 17 officials of Agriculture Department of Saran
Order of clarification against 17 officials of Agriculture Department of Saran
बिहार

सारण के कृषि विभाग के 17 पदाधिकारियों के खिलाफ स्पष्टीकरण का आदेश

news

छपरा, 14 जनवरी (हिस)। कृषि इनपुट अनुदान के आवेदनों की जांच में लापरवाही बरतना कृषि विभाग के पदाधिकारियों को महंगा पड़ गया। इस मामले में जिला कृषि पदाधिकारी के के वर्मा ने जिले के 17 पदाधिकारियों के खिलाफ स्पष्टीकरण पूछे जाने का आदेश गुरूवार को दिया है तथा 48 घंटे के अंदर स्पष्टीकरण का जवाब मांगा है। उन्होंने संतोषजनक जवाब नहीं देने वाले पदाधिकारियों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई के लिए सरकार को लिखे जाने की चेतावनी दी है । बताते चलें कि सारण जिले के 18 प्रखंडों में अत्यधिक वर्षा तथा बाढ़ के कारण किसानों का खरीफ का फसल नष्ट हो गया था, जिसकी क्षतिपूर्ति के लिए कृषि इनपुट योजना के तहत मुआवजा का भुगतान करने के लिए ऑनलाइन आवेदन किसानों ने दाखिल किया है। बिहार में सबसे अधिक आवेदन सारण जिले में दाखिल किए गए हैं। अब तक समीक्षा में पाया गया है कि 17 पदाधिकारियों के द्वारा आवेदनों की जांच तथा सत्यापन मात्र 3% किया गया है। इस पर असंतोष जताते हुए जिला कृषि पदाधिकारी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग तथा मोबाइल पर कॉल कर उन्हें कार्य में तेजी लाने का निर्देश दिया था। बावजूद इसके जांच व सत्यापन का कार्य पूरी तरह शिथिल पड़ा हुआ है। इसे गंभीरता से लेते हुए जिला कृषि पदाधिकारी ने 48 घंटे के अंदर स्पष्टीकरण पूछा है कि क्यों नहीं अनुशासनहीनता तथा स्वेच्छाचारिता एवं विभागीय कार्यों के प्रति शिथिलता बरतने के आरोप में अनुशासनिक कार्रवाई शुरू की जाए। हिन्दुस्थान समाचार / गुड्डू/चंदा-hindusthansamachar.in