on-april-24-mukhiya-will-receive-pandit-deendayal-upadhyay-panchayat-empowerment-national-award
on-april-24-mukhiya-will-receive-pandit-deendayal-upadhyay-panchayat-empowerment-national-award
बिहार

24 अप्रैल को मिलेगा मुखिया को पंडित दीनदयाल उपाध्याय पंचायत सशक्तिकरण राष्ट्रीय पुरस्कार

news

दरभंगा, 4 अप्रैल (हि.स.)। जिले के केवटी प्रखंड अंतर्गत असराहा पंचायत की मुखिया साजरा परवीन ने संबंधित पंचायत का चयन पंडित दीनदयाल उपाध्याय पंचायत सशक्तिकरण राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए किए जाने पर कहा हैं कि जब मैंने पंचायत को ओडीएफ के लिए स्वच्छता को लेकर अभियान प्रारंभ किया तो आरंभिक दौर में यह कार्य बेहद ही कठिन प्रतीत हुआ, क्योंकि हमारे पंचायत में गरीब तबके के दलितों की संख्या बहुतायत है। जिन्हें स्वच्छता के मायने समझा पाना एक कठिन कार्य था लेकिन हमने हिम्मत नहीं हारी। हमें विश्वास था कि मेहनत और ईमानदारी से किया गया कोई भी प्रयास जाया नहीं जाता, काम को पहचान मिलेगी वह कहती हैं कि बाद में आहिस्ता-आहिस्ता प्रशासनिक सहयोग से इस मुहिम को गति मिली। फलस्वरूप आज पंचायत के हरेक घर में शौचालय के साथ साथ नल का जल उपलब्ध है। पुरस्कार मिलने पर आमलोगों की रायशुमारी के बाबत जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि पुरा पंचायत गौरान्वित है। अब आगे उनका प्रयास होगा कि पंचायत की स्वच्छता को बरकरार रखने के लिए हरेक वार्ड में एक-एक झाडू लगाने वाले सफाईकर्मी की बहाली हो और पंचायत की अपनी कूड़ा उठाने वाली गाड़ी हो। उल्लेखनीय है कि जिला एवं राज्य स्तरीय कमेटी द्वारा जांचोपरांत असराहा पंचायत का चयन उक्त राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए किया गया है जो मुखिया द्वारा पंचायत में सबसे उत्कृष्ट विकास एवं स्वच्छता के बेहतर कार्य करने को लेकर दिया जाता है। यह पुरस्कार मुखिया साजरा परवीन को पंचायती राज मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस के अवसर पर आगामी 24 अप्रैल को दिल्ली में आयोजित होने वाले समारोह के दौरान प्रदान किया जाएगा। इसके लिए पंचायती राज मंत्रालय, भारत सरकार आर्थिक सलाहकार डा विजय कुमार बेहेरा ने पत्र भी प्रेषित किया है। हिन्दुस्थान समाचार/मनोज/चंदा