अब सभी एसडीओ रोज करेंगे दो-तीन जोखिम क्षेत्र का निरीक्षण

अब सभी एसडीओ रोज करेंगे दो-तीन जोखिम क्षेत्र का निरीक्षण
now-all-sdos-will-inspect-two-three-risk-zones-every-day

बेगूसराय, 14 अप्रैल (हि.स.)। कोरोना संक्रमण के अप्रत्याशित रूप से बढ़ते मामलों के मद्देनजर अब सभी अनुमंडल पदाधिकारी रोज कम से कम एक प्रखंड के दो-तीन जोखिम क्षेत्र (कंटेनमेंट जोन) का निरीक्षण करेंगे। यह निर्देश डीएम अरविंद कुमार वर्मा ने एसडीओ, बीडीओ, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी एवं अन्य संबंधित पदाधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से कोविड-19 संक्रमण के रोकथाम के लिए किए जा रहे कार्यो की समीक्षा के दौरान बुधवार को दिया है। डीएम ने सबसे पहले प्रखंडवार कोरोना संक्रमण की स्थिति, संक्रमित व्यक्तियों के स्वास्थ्य स्थिति, जोखिम क्षेत्र के निर्धारण तथा उसमें प्रोटोकॉल अनुपालन की स्थिति, एक्टिव केस सर्विलांस, टेस्टिंग के साथ-साथ जोखिम क्षेत्र के निवासियों तक आवश्यक सामग्रियों की उपलब्धता के संबंध में जानकारी प्राप्त की तथा सभी बीडीओ को जोखिम क्षेत्र ससमय बनाने के साथ ही उन क्षेत्रों में निर्धारित प्रोटकॉल का शत-प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया। डीएम ने जोखिम क्षेत्र के दायरे का विस्तार कर उसका गंभीरता से अनुश्रवण करने का भी निर्देश दिया है। इसी दौरान सभी एसडीओ को भी प्रतिदिन कम-से-कम एक प्रखंड के दो-तीन जोखिम का निरीक्षण करनेेे को कहा गया है। नगर निगम क्षेत्र में एक्टिव मामलों की समीक्षा के दौरान डीएम ने जोखिम क्षेत्र का ससमय निर्धारण करने के लिए नगर निगम के पदाधिकारियों को तीन टीम बनाने का निर्देश दिया। एसडीओ को एक मार्च 2021 के बाद से नगर निगम क्षेत्र अंतर्गत एक्टिव मामलों में जोखिम क्षेत्र के निर्धारण की समीक्षा करने का भी निर्देश दिया। बैठक के दौरान डीएम ने वैक्सीनेशन के कार्यों की समीक्षा की तथा सेकेंड डोज को प्राथमिकता में रखने के लिए प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों, पंचायती राज पदाधिकारी तथा जिला कार्यक्रम पदाधिकारी (आईसीडीएस) को आवश्यक निर्देश दिया। विशेष तौर पर गढ़पुरा, वीरपुर, खोदावंदपुर, छौड़ाही, मंसूरचक एवं मटिहानी प्रखंडों के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को कोविड वैक्सीनेशन सेंकेंड डोज के लक्ष्य को पूरा करने का निर्देश दिया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/सुरेन्द्र/चंदा