चार शीशम गुल्ली लकड़ी के साथ नेपाली अपराधी गिरफ्तार

चार शीशम गुल्ली लकड़ी के साथ नेपाली अपराधी गिरफ्तार
nepali-criminal-arrested-with-four-rosewood-gulli-wood

बगहा, 11 जून(हि.स.)। वाल्मीकि व्याघ्र परियोजना स्थित वन्य अभ्यारण्य-2 के चुनभट्टा वन के कक्ष संख्या एम- 29 में एक नेपाली अपराधी को चार शीशम की गुल्ली के साथ वनकर्मियों ने गिरफ्तार किया है । वन पदाधिकारी महेश प्रसाद के अनुसार गंडक नदी से सटे चुनभट्टा जंगल एम 29 में कुछ नेपाली अपराधी शीशम के पेड़ काटकर गुल्ली बनाकर नेपाल ले जाने की तैयारी में लगे हुए थे। वन विभाग को उक्त आशय की गुप्त सूचना मिली। सूचना मिलने पर तत्क्षण कार्यवाही करते हुए वनगश्ती टीम से उक्त स्थान पर छापेमारी करायी गयी। छापेमारी दौरान एक अपराधी पकड़ा गया, बाकी अन्य नेपाली अपराधी भागने में सफल रहें।पकड़ा गया अपराधी नेपाल स्थित जिला नवल परासी नरसई निवासी है, जिसका नाम सुनील चमार है । उल्लेखनीय है कि चूनभट्टा जंगल गंडक नदी के किनारे नेपाल और भारत से सटा हुआ है, जिसका लाभ नेपाली अपराधी बराबर उठाते हैं गंडक नदी में जब बाढ़ आता है, तो बाढ़ का लाभ उठाते हुए नाव से यह वाल्मीकि व्याघ्र परियोजना में प्रवेश कर जंगल की कटाई करनी शुरू कर देते हैं, जिससे भारतीय वन संपदा का प्रत्येक वर्ष लाखों का नुकसान होता है। जानकारी हो कि इसी क्षेत्र के लैला बेगम और अन्य अपराधी बराबर अपराध करते रहे हैं, जो भारतीय वन विभाग के नामजद अपराधी हैं। हिन्दुस्थान समाचार /अरविंद