सामुदायिक किचन खुलने से जरूरतमंद लोगों को मिली राहत

सामुदायिक किचन खुलने से जरूरतमंद लोगों को मिली राहत
needy-people-get-relief-from-opening-of-community-kitchen

भागलपुर, 22 मई (हि.स.)। कोरोना को लेकर जारी लॉकडाउन के कारण अधिकतर लोगों का काम धंधा बंद हो गया है। ऐसे में मजदूरी कर परिवार पालने वाले लोगों के समक्ष खाने पीने की समस्या उत्पन्न हो गई थी। जिसको देखते हुए बिहार सरकार के निर्देश पर जिला प्रशासन ने प्रखंड स्तर पर निशुल्क भोजन की व्यवस्था की है। प्रखंड के सन्हौला प्रखंड के राजकीय आदर्श विद्यालय भुड़िया में सामुदायिक किचन संचालित किया गया है। यहां पर प्रत्येक दिन दोपहर में 120 एवं शाम में 200 लोग भोजन के लिए पहुंचते हैं। चावल, दाल के साथ हरी सब्जी और सोयाबीन दिया जाता है। सुबह 11 बजे से दोपहर के 3:00 बजे तक भोजन कराया जाता है। विद्यालय परिसर में शारीरिक दूरी का पालन करते हुए लोगों को भोजन कराया जा रहा है। लॉकडाउन के कारण कई मजदूर व गरीब परिवारों को रोजगार नहीं मिलने से परिवार का भरण पोषण भी मुश्किल हो रहा है। प्रशासनिक स्तर से जरूरतमंदों के लिए सामुदायिक किचन शुरू किया गया। सामुदायिक किचन में भोजन कर रही महिलाओं ने बताया कि भोजन स्वादिष्ट और स्वछता पूर्वक खिलाया जा रहा है। साफ सफाई का ध्यान रखा जा रहा है। स्कूल में प्रवेश कराने से पहले हाथों को अच्छी तरह से सेनीटाइज कराया जा रहा है। फिर भोजन खिलाया जाता है। बताया कि काम रोजगार बंद है, भोजन के अलावा नाश्ता की भी जरूरत है। क्योंकि सुबह से कुछ नहीं खाने को मिलता है। समुदाय किचन का निगरानी सह नोडल अधिकारी प्रखंड के अंचल निरक्षक बिरेन्द्र लाल को बनाया है जो व्यवस्था को लेकर हमेशा जायजा ले रहे हैं। सामुदायिक किचन में व्यवस्था को बनाए रखने के लिए दो कर्मचारी की भी ड्यूटी लगाई गई है। हिन्दुस्थान समाचार/बिजय/चंदा

अन्य खबरें

No stories found.