साहित्य परिषद अध्यक्ष के निधन पर साहित्यकारों ने किया शोक व्यक्त

साहित्य परिषद अध्यक्ष के निधन पर साहित्यकारों ने किया शोक व्यक्त
litterateurs-mourn-the-death-of-sahitya-parishad-president

सहरसा,13 मई(हि.स.)। अखिल भारतीय साहित्य परिषद् के अध्यक्ष व वरीष्ठ साहित्यकार डॉ. जी.पी.शर्मा के निधन पर अखिल भारतीय साहित्य परिषद् के साहित्यकारों ने गहरी शोक संवेदना व्यक्त की।महासचिव आनंद झा ने बताया कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण और परिषद् की गतिविधियों के लिए डॉ. शर्मा सर से कुछ दिन पहले औपचारिक बातें हुई थी तो उन्होंने अपने को स्वस्थ बताया था लेकिन इधर कुछ दिन पहले से उनकी तबीयत खराब हो गयी थी। जिस कारण वे अपने गांव भटौनी चले गये थे। आज सुबह उनके भतीजे द्वारा सूचना दी गयी की शर्मा सर का निधन ह्दयाघात से हो गया है। कार्यकारी अध्यक्ष अवधेश कुमार झा "अवध" ने शोक व्यक्त करते हुए कहा की कोसी में साहित्य को स्थापित करने का काम डॉ.जी.पी.शर्मा ने किया। अपने जीवन का आधा हिस्सा उन्होंने साहित्य और साहित्य परिषद् को दिया। साथ ही उनकी रचनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि गाथा जैसे महाकाव्य को लिखकर उन्होंने अपना नाम अमर कर दिया, साथ ही इस रचना को मील का पत्थर बताया। महासचिव आनंद झा "मुरादपुरी" ने कहा की हम सबों ने एक साहित्यिक अभिभावक को खो दिया है। जिसकी रिक्तता को पूरा नहीं किया जा सकता। उन्होंने बताया की हाल ही में मधेपुरा में चुल्हाय पार्क में स्थापित शिलापट्ट पर शहीद चुल्हाय पर लिखी उनकी पंक्ति को उधृत किया गया था। हिन्दुस्थान समाचार/अजय/चंदा

अन्य खबरें

No stories found.